इंडोनेशिया के क्रैश हुये प्लेन के भारतीय पायलट कैप्टन भव्य सुनेजा को आखिरी सलाम

989
कैप्टन भव्य सुनेजा
कैप्टन भव्य सुनेजा के पार्थिव शरीर को अंतिम संस्कार के लिए ले जाते उनके पिता (दाहिने) व अन्य परिजन.

इंडोनेशिया में पिछले महीने दुर्घटनाग्रस्त हुए विमान लायन एयर के पायलट कैप्टन भव्य सुनेजा के शव की शुक्रवार को हुई शिनाख्त के बाद इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता में ही अंतिम संस्कार कर दिया गया. 31 वर्षीय भव्य सुनेजा पत्नी के साथ जकार्ता में ही रहते थे लेकिन माता पिता और बाकी परिवार दिल्ली में ही रहता है. 29 अक्टूबर को हादसे की खबर आने के बाद से उनका परिवार जकार्ता में ही है. भव्य के शव की समुद्र में तलाश और फिर शिनाख्ती प्रक्रिया की वजह से उन्हें वहीं रुकना पड़ रहा था.

कैप्टन भव्य सुनेजा
पूरे सम्मान के साथ कैप्टन भव्य सुनेजा के पार्थिव शरीर को अंतिम संस्कार के लिए ले जाया गया.
कैप्टन भव्य सुनेजा
कैप्टन भव्य सुनेजा अपनी पत्नी के साथ और दाएं काकपिट में. फेसबुक से ली गई है यह तस्वीर.

उल्लेखनीय है कि इंडोनेशियाई निजी एयरलाइन लायन एयर का बोइंग 737 मैक्स 8 जकार्ता स्थित सोएकरनो हट्टा अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से पेंगकई पिनांग शहर के लिए उड़ान भरने के चंद ही मिनट बाद दुर्घटना का शिकार होकर उत्तरी जावा के समुद्र तट के पास 30 से 35 मीटर गहरे पानी जा गिरा था. विमान में 188 यात्रियों के अलावा को-पायलट हरविनो और क्रू के 6 सदस्य भी थे.

भव्य सुनेजा की माँ संगीता सुनेजा भारतीय सरकारी एयरलाइन एयर इंडिया में कार्गो मैनेजर हैं. सुनेजा परिवार राजधानी दिल्ली के पूर्वी क्षेत्र के मयूर विहार फेज एक के पाकेट 4 में रहता है. इसी इलाके के जाने माने एल्कोन स्कूल में भव्य सुनेजा ने पढ़ाई की थी. अमीरात एयर में भी प्रशिक्षु पायलट रहे भव्य सुनेजा ने 2011 में लायन एयर की नौकरी शुरू की थी और उन्हें विमान उड़ाने का छह हज़ार घंटे का तजुर्बा था. भव्य सुनेजा विमान के कैप्टन थे उनके को पायलट हरविनो को भी पांच हजार घंटे की उड़ान का अनुभव था.

उस दिन हवाई अड्डे से उड़ान भरने के 13 मिनट बाद ही इस बोइंग का नियन्त्रण कक्ष से उस वक्त सम्पर्क टूट गया था जब विमान 5000 फुट के ऊंचाई पर था. हवाई जहाज़ का आखिरी डाटा 3650 फुट की उंचाई तक रिकार्ड किया गया. सम्भवत: उस वक्त ये समुद्र की तरफ गिर रहा था. समुद्र में जहां विमान गिरा वो राजधानी जकार्ता से करीब 35 किलोमीटर के फासले पर है.

1 COMMENT

Comments are closed.