श्रीनगर में अमित शाह शहीद एसएचओ अरशद खान के घर पहुंचे

39
Descriptive Image
Union Home Minister Amit Shah visited the home of the martyred Inspector of J&K Police, Arshad Khan and consoled his bereaved family.

भारत के गृहमंत्री अमित शाह ने जम्मू कश्मीर की राजधानी श्रीनगर में आज, जम्मू कश्मीर पुलिस के शहीद इंस्पेक्टर (एसएचओ) अरशद खान के शोकाकुल परिवार से मुलाकात की. आतंकवाद निरोधक ऑपरेशंस में अति उत्साह और बहादुरी के साथ हिस्सा लेने वाले अरशद खान एसएचओ थे और आतंकवाद के गढ़ माने जाने वाले दक्षिण कश्मीर के सीमाई ज़िले अनंतनाग में तैनात थे. वहीं पर 12 जून को आतंकवादियों ने उन पर हमला किया था जिसमें 5 और सुरक्षाकर्मी भी शहीद हुए थे.

जम्मू कश्मीर के दो दिन के दौरे पर आये केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह आज अचानक सुबह श्रीनगर में सिविल लाइंस में कर्ण नगर इलाके में बल गार्डन स्थित अरशद खान के घर पहुंचे और परिवार वालों से मुलाकात की और उन्हें धैर्य बंधाया. अमित शाह ने कहा कि अरशद खान की देश के लिए दी गई कुर्बानी ने बहुत लोगों की जान बचाई है और पूरा राष्ट्र उनके हौसले और बहादुरी पर फ़ख्र करता है. इंस्पेक्टर अरशद के परिवार में माता पिता और भाई के अलावा पत्नी और दो बेटे एक साल का दामिन और चार साल का उहबान हैं.

EmotionalImage
शहीद एसएचओ अरशद खान को पुलिस रस्मों के साथ पुष्पांजलि अर्पित किये जाने के वक्त 17 जून को एसएसपी हसीब इंस्पेक्टर अरशद के बेटे को गोद में उठाते वक्त अपनी संवेदनाओं को काबू न कर सके और आंसुओं को रोकने की कोशिश में फफक पड़े.

बख्तरबंद गाड़ी से बाहर निकलते हुए 12 जून को इंस्पेक्टर अरशद खान आतंकवादियों की चलाई उस गोली के लगने से बुरी तरह जख्मी हुए थे जो गोली उनकी राइफल से टकराकर (ricocheted) उनके पेट में लगी थी. पहले स्थानीय अस्पताल के बाद इलाज के लिए इंस्पेक्टर अरशद खान को दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स – AIIMS) ले जाया गया था जहां उन्होंने आखिरी सांस ली.

अपने साथियों और वरिष्ठ अधिकारियों के बीच बहादुर छवि वाले इंस्पेक्टर अरशद खान ने 20 दिन पहले ही अनंतनाग के सदर ठाणे का प्रभार संभाला था. ये हमला अनन्तनाग के केपी रोड पर हुआ था जिसमें जान गंवाने वाले बाकी पांच सुरक्षाकर्मी केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) के जवान थे.

उनकी शहादत के बाद और अंतिम संस्कार के वक्त की दिल दहला देने वाली और बेहद मार्मिक तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुई थीं. इनमें एक तस्वीर उनके चार साल के बेटे की है जो उन्हें आखिरी सलाम करते समय ली गई.

वहीँ शहीद एसएचओ को पुलिस रस्मों के साथ पुष्पांजलि अर्पित किये जाने के वक्त की ही एक तस्वीर श्रीनगर के एसएसपी डॉक्टर हसीब की भी थी. एसएसपी हसीब इंस्पेक्टर अरशद के बेटे को गोद में उठाते वक्त अपनी संवेदनाओं को काबू न कर सके और आंसुओं को रोकने की कोशिश में फफक पड़े थे. जम्मू कश्मीर पुलिस के आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से भी ये तस्वीर जारी की गई थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here