कोरोना वायरस से जंग हार गया दिल्ली पुलिस का जांबाज इंस्पेक्टर संजीव यादव

45
इंस्पेक्टर संजीव यादव (फाइल)

वैश्विक महामारी कोविड 19 के संक्रमण से लड़ते दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल में तैनात एक जांबाज पुलिस अधिकारी इंस्पेक्टर संजीव यादव (47) ने प्राण त्याग दिए. शूरवीरता के लिए पुलिस मेडल से सम्मानित इंस्पेक्टर संजीव यादव दिल्ली के मैक्स अस्पताल में भर्ती थे जहां कल उन्होंने अंतिम सांस ली. तकरीबन 15 दिन पहले ही जांच के दौरान उनको कोविड 19 संक्रमण की पुष्टि हुई थी. बुखार होने और सांस लेने में तकलीफ होने पर उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था. इंस्पेक्टर संजीव यादव को दो बार दी गई प्लाज्मा थेरेपी भी काम न सकी.

पुलिस पर प्रकोप :

आतंकवादियों और खतरनाक सरगनाओं से निपटने वाले दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल के बहादुर इंस्पेक्टर की इन हालत में मृत्यु परिवार और परिचितों के लिए ही सिर्फ नहीं, पूरे पुलिस परिवार के लिए सदमा है और स्थाई क्षति भी. दिल्ली पुलिस के तकरीबन 800 से ज्यादा कार्मिकों को अपने चपेट में ले चुका कोविड 19 अब तक 9 की जान ले चुका है. दो सब इंस्पेक्टर, तीन सहायक सब इंस्पेक्टर और तीन सिपाहियों की ज़िन्दगी इस संक्रमण की भेंट चढ़ चुकी है.

पत्नी भी चपेट में :

इंस्पेक्टर संजीव यादव दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल की दक्षिण-पश्चिम रेंज में तैनात थे. इससे पहले वे नई दिल्ली के ऐतिहासिक तुगलक रोड थाने और क्राइम ब्रांच में भी तैनात रहे हैं. उन्हें इसी साल 26 जनवरी के अवसर पर गैलेंट्री मेडल से सम्मानित किया गया था. उत्तर प्रदेश के मूल निवासी इंस्पेक्टर संजीव यादव पूर्वी दिल्ली के लक्ष्मी नगर इलाके में परिवार के साथ रहते थे. उनके शोकाकुल परिवार में पत्नी और दो बच्चे हैं. इंस्पेक्टर संजीव की पत्नी को भी कोविड 19 के संक्रमण ने अपनी चपेट में लिया था.

दिल्ली में हालात :

दिल्ली में लगातार फैलता कोविड 19 संक्रमण पुलिस के कोरोना योद्धाओं को अपनी चपेट में ले रहा है. मंगलवार को राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के 2 हज़ार से ज्यादा नये केस सामने आये हैं जिससे दिल्ली में इसकी चपेट में आये लोगों की संख्या 87 हज़ार से ऊपर पहुँच गई है. हालांकि दिल्ली सरकार के आंकड़ों के मुताबिक संक्रमण प्रभावित मरीज़ों के स्वस्थ होने की संख्या भी लगभग उतनी ही तेजी से बढ़ रही है. 24 घंटे में 2113 मरीज़ ठीक हुए हैं. कोविड 19 संक्रमण से दिल्ली में कुल मिलाकर 58 हज़ार से ज्यादा लोग ठीक हुए हैं और अभी तकरीबन 26 हजार से ज्यादा केस सक्रिय हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here