कौन होगा दिल्ली पुलिस का अगला कमिश्नर?

257
पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक

दिल्ली का पुलिस कमिश्नर कौन बनेगा? ये सवाल भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारियों के बीच चर्चा और कौतूहल का विषय जिस वजह से और बना हुआ है वो वजह है बुधवार को दिल्ली के पत्रकार समुदाय में अचानक सर्कुलेट हुआ वो पत्र जो दिल्ली सरकार के गृह विभाग से जारी हुआ है. नियम कायदे के मुताबिक़ दिल्ली पुलिस की कमान सम्भाल रहे वर्तमान कमिश्नर अमूल्य पटनायक को 31 जनवरी को रिटायर होना है लेकिन दिल्ली में विधानसभा चुनाव की अधिसूचना जारी हो चुकी है. ऐसे में आईपीएस गलियारे में चर्चा शुरू हुई कि क्या चुनाव अचार संहिता लागू होने के बाद राजधानी में पुलिस का नया मुखिया तैनात किया जा सकता है!

एस एन श्रीवास्तव, ताज हसन

इन चर्चाओं के बीच ही अचानक ये चिट्ठी सर्कुलेट हो गई जिसमें एक आदेश जारी किया गया. इस आदेश के मुताबिक़ भारतीय पुलिस सेवा के 1985 के आईपीएस अधिकारी 31 जनवरी को सेवानिवृत्ति की आयु के हिसाब से रिटायर होंगे. इसमें कहा गया है कि ये आदेश उपराजपाल की स्वीकृति के बाद जारी किया गया है. आठ जनवरी की तारीख वाला ये आदेश केन्द्र सरकार, उप राज्यपाल कार्यालय, दिल्ली सरकार के अधिकारियों, पुलिस मुख्यालय तक में पहुँचने के बाद जिला स्तर के पुलिस अधिकारियों तक भी पहुँच गया. शुरू में ये बात भी फ़ैली कि ये फर्जी आदेश है क्यूंकि 6 जनवरी को चुनाव आचार संहिता लागू हो गई थी ऐसे में आम तौर पर इस स्तर के अधिकारियों को हटाना या नई नियुक्ति करना जैसा कोई कदम शासन नहीं उठाता और इसके लिए पहले चुनाव आयोग की मंजूरी भी ली जाती है.

वो पत्र जो दिल्ली सरकार के गृह विभाग से जारी हुआ है.

ऐसे में ये कयास भी लगाये जाने लगे ये आदेश फर्जी है और वर्तमान पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक को सेवा विस्तार दिया जा सकता है दिल्ली के चुनाव यानि मतदान के दिन 8 फरवरी तक पुलिस का मुखिया बनाकर रखा जाएगा. श्री पटनायक को 2017 में पुलिस आयुक्त बनाया गया था जबकि उनके कैडर और बैच के वरिष्ठ अधिकारियों को नज़रन्दाज़ किया गया था.

वैसे एक अंदाज़ा ये भी था कि सीआरपीएफ के मुखिया के नाम का ऐलान करने के साथ ही दिल्ली पुलिस के कमिश्नर के नाम पर भी सरकार कुछ फैसला ले लेगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ. वरिष्ठता, अनुभव और सेवा के रिकार्ड आदि के हिसाब से दिल्ली पुलिस के आयुक्त के पद के लिए अमूल्य पटनायक के ही बैच के सच्चिदानन्द श्रीवास्तव का नाम प्रमुखता से लिया जा रहा है जो सीआरपीएफ में विशेष महानिदेशक हैं और दिल्ली पुलिस में विभिन्न ओहदों पर काम कर चुके हैं.

उनके अलावा उनसे दो बैच जूनियर ताज हसन का भी नाम चर्चा में है. ताज हसन 1987 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं और वर्तमान में विशेष आयुक्त (यातायात) हैं. उनकी पत्नी नुजहत हसन भी आईपीएस अधिकारी हैं और दिल्ली पुलिस में तैनात हैं. वैसे 1985 से 1987 बैच के और अधिकारी भी वरिष्ठता के हिसाब से कतार में हैं लेकिन किसी का रिटायरमेंट नज़दीक है तो किसी का सर्विस रिकार्ड में गड़बड़ी या विवाद से जुड़ा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here