सब केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल में सेवानिवृत्ति की आयु एक जैसी होगी यानी 60 साल

40
सीमा पर बीएसएफ जवान.

भारत के सभी केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल (Central Armed Police Force-CAPF) में सभी रैंक के कार्मिकों की सेवानिवृत्ति की उम्र अब 60 वर्ष होगी. भारत सरकार के गृह मंत्रालय ने दिल्ली हाई कोर्ट के जनवरी माह में दिए गये एक आदेश के मद्देनजर ये फैसला किया है. अदालत ने अपने आदेश में कहा था कि केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बलों में सेवानिवृत्ति की अलग अलग आयु का तय होना और साथ ही किसी रैंक के लिए कुछ तो किसी के लिए कुछ और होना भेदभावपूर्ण और असंवैधानिक है.

समाचार एजेंसी पीटीआई की खबर के मुताबिक सरकार ने सेवानिवृत्ति की समान आयु के बारे में सोमवार को आदेश दिया है. इसमें कहा गया है कि केन्द्रीय रिज़र्व पुलिस बल (सीआरपीएफ), सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ), भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल (आईटीबीपी) और सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) के सभी कार्मिकों की रिटायरमेंट अब 57 वर्ष की जगह 60 वर्ष की आयु में होगी.

मौजूदा नीति के मुताबिक केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) और असम रायफल्स के सभी कार्मिक 60 साल की उम्र में रिटायर होते हैं वहीं दूसरी तरफ केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) , सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ), भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल (आईटीबीपी) और सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) सिपाही से लेकर कमान्डेंट तक तो 57 साल की आयु में जबकि इनसे ऊपर के रैंक वाले अधिकारी 60 साल तक सेवा में रहते हैं. गृह मंत्रालय ने सभी केन्द्रीय पुलिस संगठनो से कहा है कि वो अदालत के आदेश का पालन करें और उसके अनुरूप नियमों में बदलाव का प्रावधान करें.

भारत के विभिन्न केन्द्रीय पुलिस बलों को देशभर के अलग अलग हिस्सों में आंतरिक सुरक्षा के लिए अलग अलग तरह की ड्यूटी पर लगाया जाता है जिनमें सीमाओं की रक्षा से लेकर, आतंकवाद और नक्सलवाद से निपटना हो या फिर कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए तैनात किया जाना ही क्यूँ न हो.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here