समन्दर की गहराई में फहराया एसएसबी (SSB) का झंडा

684
SSB
Assistant Commandant Divesh unfurled SSB flag deep inside the Arabian sea.

हवा में, आसमान में, पहाड़ों की चोटियों पर ध्वजारोहण देखा ही जाता है लेकिन बुधवार को समन्दर की गहराई में भी ध्वजारोहण किया गया. मौका था भारत में सीमाओं की पहरेदारी करने वाले सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी-SSB) के 55 पूरे होने का. यूँ तो एसएसबी स्थापना दिवस का मुख्य कार्यक्रम मंगलवार को दिल्ली के घिटोरनी में हुआ लेकिन आज इसी बल के सहायक कमांडेंट दिवेश ने एसएसबी की सालगिरह अलग ढंग से मनाई और वह भी अरब सागर में गोते लगाकर.

SSB
सहायक कमांडेंट दिवेश सहायक कमांडेंट दिवेश ने अरब सागर में तकरीबन 170 गहराई में जाकर एसएसबी का ध्वज फहराया.

एसएसबी के स्थापना दिवस के मौके पर सहायक कमांडेंट दिवेश ने अरब सागर में तकरीबन 170 गहराई में जाकर एसएसबी का ध्वज फहराया. ये तस्वीरें बुधवार दोपहर की हैं जिसमें पेशेवर गोताखोर सहायक कमांडेंट दिवेश समन्दर के पानी में एसएसबी का ध्वज अपने दोनों हाथों से पकड़कर फहरा रहे हैं. उनके साथ ध्वजारोहण के वक्त उनकी टीम के और सदस्य भी थे.

एसएसबी से पहले दिवेश भारतीय कोस्ट गार्ड में अपनी सेवाएँ दे चुके हैं और वह एसएसबी के पोरबन्दर स्थित एक्वा मैरीन ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट (AMTI) में तैनात हैं. साल भर पहले ही वजूद में आया ये संस्थान विभिन्न बलों के जवानों को भी तरह तरह की ट्रेनिंग देता है और जल क्रीड़ाओं (वाटर स्पोर्ट्स) को प्रोत्साहित करने के अलावा तरह तरह के कोर्स भी करवाता है. जलीय गतिविधियों से जुड़े पांच तरह के कोर्स के अलावा नागरिकों के लिए भी यहाँ एक कोर्स है. इसके लिए एक्वा मैरीन ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट ने गांधीनगर स्थित स्वर्णिम गुजरात स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी से करार किया था.