इज़रायली सेना, आईएएस और पुलिस ने मिलकर हमास के ठिकानों से 4 बंधक मुक्त कराए

12
बचाए गए बंधक

इज़रायली सेना ने शनिवार को “दिन के समय चलाए गए जटिल ऑपरेशन” के बाद गाजा से चार  बंधकों को ज़िंदा बचाया है. सेना ने दावा किया है कि यह चारों उन लोगों में से हैं जिन्हें 7 अक्टूबर को नोवा संगीत समारोह से हमास के आतंकवादियों ने  अगवा कर लिया था . यह चारों इजरायली नागरिक है . सेना ने बचाए गए बंधकों के नाम नोआ अर्गामानी, 26, अल्मोग मीर जान, 22, एंड्री कोज़लोव, 27 और श्लोमी ज़िव, 41 बताए हैं. सेना ने बताया कि छुड़ाए गए  चारों लोगों को अस्पताल ले जाया गया है और उनकी “स्वास्थ्य स्थिति अच्छी” है.

इज़रायली अधिकारियों ने इससे संबंधित एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर डाली एक पोस्ट में साझा किया है . भावुक कर देने वाले इस  वीडियो  की फुटेज में दिखाया गया है कि बचाव के बाद अरगामनी अपने पिता  से मिल रही हैं. इज़रायली टेलीविज़न पर प्रसारित फुटेज में अरगामनी को राष्ट्रपति इसहाक हर्ज़ोग से फ़ोन पर बात करते और मुस्कुराते हुए भी देखा गया.

इज़रायली सेना के प्रवक्ता रियर एडमिरल डेनियल हैगरी ने कहा कि यह ऑपरेशन रिहायशी इलाके में  दो अलग-अलग जगह पर  किया गया था . हैगरी ने टेलीविज़न पर दिए गए एक बयान में कहा, “इमारतों के अंदर और गाजा से बाहर निकलने के रास्ते में गोलीबारी के दौरान हमारे बलों ने हमारे बंधकों को बचाया.” उन्होंने कहा कि इस सुबह 11 बजे किए गए इस  ऑपरेशन में एक इज़रायली सैनिक बुरी तरह ज़ख़्मी  हो गया. उन्होंने कहा कि आज सुबह हमास को संदेश स्पष्ट है: हम सभी बंधकों को वापस घर लाने के लिए दृढ़ हैं.

बंधकों  को छुडाने के लिए गाजा में किए गए इस ऑपरेशन में इजरायली सेना , आई एस ए ( isa ) और पुलिस की भी अहम भूमिका रही.

7 अक्टूबर को दक्षिणी इजराइल पर अपने हमले के दौरान, आतंकवादियों ने 251 लोगों को बंधक बनाया था  जिनमें से 116 अब फिलिस्तीनी क्षेत्र में रह गए हैं. सेना के  मुताबिक़ उनमें से  41 की जान जा चुकी है .

आधिकारिक इजराइली आंकड़ों पर आधारित एएफपी की गिनती के मुताबिक़ इजरायल में  7 अक्टूबर के हमले के परिणामस्वरूप  1,194 लोगों की मौत हुई, जिनमें से ज़्यादातर  नागरिक थे.

वहीँ हमास के नियंत्रण वाले क्षेत्र के स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, गाजा पर इजराइल की जवाबी बमबारी और जमीनी हमले में 36,801 लोग मारे गए हैं और जिनमें से ज़्यादातर नागरिक थे.

नुसेरात हमला :

इससे पहले शनिवार को सेना ने एक अलग बयान में कहा कि सेना “नुसेरात के क्षेत्र में आतंकवादी ढांचे को निशाना बना रही थी. “गाजा के एक अस्पताल ने कहा कि नुसेरात शिविर समेत  क्षेत्र के केंद्रीय क्षेत्रों में इजरायली हमलों में शनिवार को कम से कम 15 लोग मारे गए.