विश्व के सबसे बड़े अंतर्राष्ट्रीय समुद्री सैन्याभ्यास से चीन को बाहर कर दिया

367
अंतर्राष्ट्रीय समुद्री सैन्याभ्यास
अमेरिका के रक्षा मंत्री जेम्स मैटिस (फाइल फोटो)

वाशिंगटन. अमेरिका ने विश्व के सबसे बड़े अंतर्राष्ट्रीय समुद्री सैन्याभ्यास में शामिल होने के लिए चीन को भेजे गए निमंत्रण को वापस ले लिया है. पेंटागन ने यह घोषणा की. सीएनएन के मुताबिक, पेंटागन के एक प्रवक्ता ने बुधवार को जारी बयान में कहा कि चीन का रुख RIMPAC सैन्याभ्यास के सिद्धांतों और उद्देश्यों के विरुद्ध है और इसलिए चीन की नौसेना को 2018 के रिम ऑफ द पैसिफिक (RIMPAC) सैन्याभ्यास से बाहर कर दिया गया है.”

RIMPAC सैन्याभ्यास का हवाई में हर साल आयोजन किया जाता है. इसमें भारत, ऑस्ट्रेलिया, जापान और ब्रिटेन सहित दुनियाभर के 20 से अधिक देश हिस्सा लेते हैं.

एक रक्षा अधिकारी के मुताबिक, अमेरिका के रक्षा मंत्री जेम्स मैटिस और व्हाइट हाउस के समन्वित फैसले के तहत चीन को भेजे जाने वाले आमंत्रण को वापस ले लिया गया है. हवाई पैसिफिक यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर और यूएस पैसिफिक कमांड के ज्वाइंट इंटेलिजेंस सेंटर के पूर्व निदेशक कार्ल स्कस्टर ने सीएनएन को बताया कि चीन के आमंत्रण को वापस लेने का फैसला यह बताता है कि तुष्टिकरण के दिन अब लद गए हैं.

उन्होंने कहा, “अब हम कूटनीतिक रूप से कड़ी कार्रवाई करने के लिए तैयार हैं. हम चीन को बता रहे हैं कि दक्षिण चीन सागर में और अधिक पैठ का जवाब उसे कूटनीतिक और आर्थिक नतीजों के रूप में दिया जाएगा.”