दिल्ली में दंगाइयों ने आईबी में तैनात अंकित की भी जान ली, दो और शव नाले से मिले

173
दंगाइयों के हाथों मारे गए आईबी के सुरक्षा सहायक अंकित शर्मा.

दिल्ली में दंगाइयों ने इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) में तैनात सुरक्षा सहायक अंकित शर्मा की भी जान ले ली. देश की राजधानी के उत्तर पूर्व में, नागरिकता संशोधन कानून के पक्ष -विपक्ष में दंगाई बने आन्दोलनरत हिंसक लोगों के हाथों मारे गए दिल्ली पुलिस के हवलदार रतन लाल के बाद किसी पुलिस संगठन से जुड़े कर्मी की ये दूसरी हत्या की वारदात है. अंकित शर्मा समेत तीन लोगों के शव बुधवार की सुबह यहाँ एक नाले से मिले.

अंकित का आई कार्ड

ये वारदात मंगलवार रात की है जब अंकित शर्मा खजूरी इलाके में अपने घर लौट रहे थे. बताया जा रहा है कि पास के ही चाँद बाग़ इलाके में हिंसक लोगों ने उन पर पथराव किया. अंकित के पिता रविंदर शर्मा भी आईबी में तैनात हवलदार हैं. अंकित समेत तीनों शवों पर चोटों के निशान पाए गये हैं. शवों को पोस्टमार्टम के लिए निकटवर्ती गुरु तेग बहादुर अस्पताल ले जाया गया है. घटना वाली जगह के आसपास के लोगों का कहना है वहां घरों की छतों से भी पथराव किया गया था.

अंकित के पिता और मां.

रात भर अमित घर नहीं लौटे. सुबह उनका शव नाले में पड़े होने की सूचना किसी स्थानीय निवासी ने ही दी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here