पुलिस सेवा में पत्नी का छोड़ा काम आगे बढ़ाएंगे हिमाचल में यह आईपीएस

30
कुल्लू ज़िले के नए एसपी सीडी कार्तिकेयन ने अपनी पत्नी साक्षी से कार्यभार किया ( फोटो साभार : न्यूज़ 18 )

सच में ऐसा विरला संयोग शायद ही कभी देखा सुना गया हो. लेकिन यह संयोग हाल ही में तब हुआ जब हिमाचल प्रदेश में एक साथ कई पुलिस अफसरों के तबादले कर दिए गए. इनमें 12 भारतीय पुलिस सेवा ( आईपीएस – IPS ) के और 16 हिमाचल प्रदेश पुलिस सेवा (HPPS ) के  अधिकारियों के नाम थे. आईपीएस   अधिकारी साक्षी वर्मा और उनके पति आईपीएस सीडी कार्तिकेयन गोकुलचंद्रन का नाम भी उन्हीं अधिकारियों की सूची में था.

हिमाचल प्रदेश में हुए इन तबादलों में चार जिलों के एसपी भी बदले गए. ऐसे में हुआ यूं कि  कुल्लू ज़िले में तैनात साक्षी वर्मा का तबादला मंडी के  पुलिस अधीक्षक ( एसपी ) के पद पर दिया गया. वहीं उनके पति सीडी कार्तिकेयन गोकुलचंद्रन को बिलासपुर ज़िले के एसपी के ओहदे से हटाकर कुल्लू भेजने के आदेश दे दिए गए . सीडी कार्तिकेयन गोकुलचंद्रन जब एसपी के तौर पर चार्ज लेने के लिए कुल्लू पहुंचे तब वहां उनका स्वागत पत्नी साक्षी वर्मा ने किया. साक्षी ने आईपीएस पति कार्तिकेयन को अपनी कुर्सी और कार्यभार सौंपा. इस तरह कैमरे में शायद इस तरह के क्षण पहली बार कैद हुए जब पत्नी ने पति से हाथ मिलाया कार्यभार सौंपा व शुभकामनाएं दीं .

पंजाब के राजपुरा की रहने वाली 35 वर्षीय आईपीएस साक्षी वर्मा 2014 में संघ लोक सेवा आयोग ( यूपीएससी- UPSC) की परीक्षा पास करके 25 साल की उम्र में आईपीएस बनी थीं.  कुल्लू की एसपी बनने से पहले वह राजधानी शिमला में रह चुकी थीं. नशा  तस्करों के खिलाफ उनकी कार्रवाई के बाद लोग उनको लेडी सिंघम कहने लगे . महिला कल्याण व महिला सुरक्षा में काफी दिलचस्पी लेने वाले आईपीएस साक्षी वर्मा गुड़िया हेल्पलाइन , शक्ति बटन और होशियार सिंह जैसी शुरू की गई सेवाओं के कारण उनको और प्रसिद्धि मिली.

अब जब उनके आईपीएस पति  सीडी कार्तिकेयन गोकुलचंद्रन की बात करें तो वह भी कम दिलचस्प नहीं है. आईपीएस कार्तिकेयन भी 2014 बैच के अफसर  हैं यानि दोनों  पति – पत्नी बैचमेट भी हैं. लेकिन जब शादी हुई तब दोनों के कैडर अलग अलग थे. ऐसे में साथ साथ रहना मुश्किल हो रहा था. भारतीय पुलिस सेवा (कैडर ) नियम – 1954 में प्रावधान है कि पति या पत्नी में से कोई एक विवाह के आधार पर अपने राज्य का कैडर बदलवाकर अपने जीवन साथी के कैडर में स्थानांतरित हो सकता है. केंद्र सरकार दोनों राज्यों के राजी होने पर ऐसा कर सकती है . उसी नियम के तहत आईपीएस सीडी कार्तिकेयन ने 2019 में  हिमाचल प्रदेश कैडर में अपना तबादला करवा दिया जो उनकी पत्नी का कैडर राज्य है  .

पुलिस सेवा में पत्नी का छोड़ा काम आगे बढ़ाएंगे हिमाचल में यह आईपीएस
आईपीएस सीडी कार्तिकेयन हिमाचल प्रदेश हमीरपुर और  ऊना ज़िले के एसपी भी रहे हैं . इसके अलावा शिमला के  एआईजी  समेत अन्य यूनिटों में भी उन्होंने केरल पुलिस से आने के बाद अपनी सेवाएं दी हैं . आईपीएस कार्तिकेयन संगीत के साथ साथ फिटनेस के शौक़ीन भी है .

कौन अधिकारी कहाँ गया :  

पुलिस अधीक्षक (एसपी साइबर-क्राइम) रोहित मालपानी को सशस्त्र पुलिस की पहली बटालियन के कमांडेंट के रूप में  जुन्गा में  तैनात किया गया है. कुल्लू की एसपी साक्षी वर्मा को मंडी का एसपी और बिलासपुर के एसपी सीडी कार्तिकेयन गोकुलचंद्रन को कुल्लू का एसपी बनाया गया है.  एसपी (कानून-व्यवस्था ) सृष्टि पांडे किन्नौर के  एसपी का पदभार संभालेंगी. वहीं  किन्नौर के एसपी विवेक चेहल को सीडी कार्तिकेयन के स्थान पर बिलासपुर का एसपी बनाया गया है.

पुलिस महानिरीक्षक बिमल गुप्ता को आईजी सतर्कता एवं भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के पद पर नयी तैनाती मिली है. उप महानिरीक्षक (डीआईजी – एंटी करप्शन ब्यूरो )  जी शिवकुमार को मंडी का डी आई जी नियुक्त किया गया है. सौम्या सांबशिवन को डीजीपी के रूप में पदोन्नत किया गया है और वह पुलिस प्रशिक्षण स्कूल, डरोह के प्रिंसिपल का पदभार संभालेंगी.

ऊना के एसपी अर्जित सेन ठाकुर को राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल का एसपी लगाया गया है.  जुंगा प्रथम बटालियन की कमांडेंट मोनिका बुटुंगरू छठी बटालियन की कमांडेंट होंगी. एसपी (अपराध) धौलाकुआं पदम चंद को हमीरपुर का एसपी नियुक्त किया गया है. हमीरपुर की एसपी आकृति को कमांडेंट, प्रथम आईआरबी, बनगढ़ के पद पर स्थानांतरित किया गया है. इंडिया रिज़र्व की 5 बटालियन   के कमांडेंट राकेश सिंह को ऊना का एसपी लगाया गया है.