कोरोना योद्धा एसीपी अनिल कोहली के पुत्र को पंजाब पुलिस का ऑफ़र

222
पंजाब पुलिस के एसीपी अनिल कोहली

वैश्विक महामारी कोविड 19 के संक्रमण से पंजाब के शहर लुधियाना के बाशिंदों को बचाते बचाते खुद उसकी चपेट में आकर चल बसे योद्धा पंजाब पुलिस के एसीपी अनिल कोहली के बेटे पारस को पुलिस में सेवा करने का प्रस्ताव भेजा गया है. इस प्रस्ताव के मुताबिक स्नातक की पढ़ाई पूरी होने पर पारस को पंजाब पुलिस में भर्ती कर लिया जाएगा. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से हरी झंडी मिलने के बाद इस बाबत पत्र जारी किया गया है.

पंजाब पुलिस के महानिदेशक दिनकर गुप्ता ने पारस को नौकरी के प्रस्ताव का ज़िक्र करते हुए ट्वीट किया है, “ये बताते हुए ख़ुशी हो रही है कि पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने एसीपी अनिल कोहली के बेटे पारस को, स्नातक की पढ़ाई पूरी करने पर, उप निरीक्षक के तौर पर नियुक्ति को मंजूरी दे दी है”. बुधवार के इस संदेश में श्री गुप्ता ने कहा है कि उन्होंने आज ही नियुक्ति प्रस्ताव पर दस्तखत किये हैं. पंजाब पुलिस हमेशा अपने योद्धाओं के साथ खड़ी रहेगी.

पंजाब पुलिस में बतौर एसीपी तैनात 52 वर्षीय अनिल कोहली ने कोविड 19 के संक्रमण से लड़ते हुए 18 अप्रैल को प्राण त्याग दिए थे. उन्हें 13 अप्रैल को कोविड 19 संक्रमण की पुष्टि होने पर इलाज के लिए एसपीएस अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उन्हें प्लाज्मा थेरेपी (plasma therapy) देकर इलाज करने की मंजूरी ही सिर्फ नहीं दी गई बल्कि इसके लिए पीजीआई चंडीगढ़ की टीम ने तैयारी भी कर ली थी. इससे पहले कि उन्हें प्लाज़्मा चढ़ाने के लिए टीम पहुँचती, श्री कोहली ने मल्टी ऑर्गन फेलियर (multi organ failure) की वजह से प्राण त्याग दिए.