इस महिला कांस्टेबल को सैल्यूट क्योंकि अपना दूध पिलाकर लावारिस नवजात की जान बचाई

770
महिला कांस्टेबल अर्चना शिवानंदैया
महिला कांस्टेबल अर्चना शिवानंदैया इस समय सोशल मीडिया में छाई हुई हैं. Photo/BENGALURU CITY POLICE

एक महिला पुलिसकर्मी की आजकल चारों तरफ तारीफ हो रही है. इसलिये नहीं कि उसने कोई बहादुरी भरा कारनामा किया है बल्कि इस महिला पुलिसकर्मी ने इससे बड़ा हिम्मत वाला काम किया है. जी हाँ, इस महिला ने इंसानियत का जो फर्ज अदा किया है, उसकी उम्मीद किसी पुलिसवाले से तो विरले ही की जा सकती है. यह महिला एक ऐसे नवजात को अपना दूध पिला रही है जिसे कोई संवेदनहीन मां जन्म देने के साथ लावारिस छोड़ गई थी. इस महिला कांस्टेबल का नाम अर्चना शिवानंदैया है. घटना कर्नाटक की है. बेंगलुरु पुलिस ने अर्चना को उनके इस कार्य के लिये बधाई दी है. अर्चना सोशल मीडिया में भी छाई हुई हैं. अर्चना का कहना है कि वह इस समय मां होने के अहसास का अनुभव कर रही हूँ.

1 जून को दक्षिणी बेंगलुरु में एक कंस्ट्रक्शन साइट के पास प्लास्टिक बैग के भीतर नवजात लड़का कोई डाल गया था. एक स्थानीय दुकानदार ने पुलिस को इसकी इत्तिला दी तो इंस्पेक्टर आर. नागेश और अर्चना मौके पर पहुंचे. उन्होंने देखा कि बच्चा खून से सना है और उसके गले में Umbilical cord (नाभि रज्जु) लिपटी हुई है. बच्चे को पास के अस्पताल ले जाया गया जहाँ डाक्टरों ने बच्चे को साफ-सुथरा किया. दोनों बच्चे को पुलिस स्टेशन ले आये.

31 वर्षीय अर्चना ने बताया कि बच्चा बहुत कमजोर था और ज्यादा कुछ हरकत भी नहीं कर रहा था. हम बहुत चिंतित हो गये. मेरे अंदर का मातृत्व जाग गया और तुरंत ही पास के कमरे में उसे ले गई और अपना दूध पिलाया. यहाँ यह बताना जरूरी है कि अर्चना हाल ही में तीन महीने के मातृत्व अवकाश से लौटी थीं. अर्चना बताती हैं कि मां का दूध अमृत समान होता है यह साबित हो गया जब बच्चे की जिंदगी बच गई. वह लात चलाने लगा और जोर-जोर से रोने लगा. इससे पुलिस स्टेशन में सभी के चेहरे पर खुशी की लहर दौड़ गई.

महिला कांस्टेबल अर्चना शिवानंदैया
बेंगलुरू पुलिस का फेसबुक पोस्ट
  • इंस्पेक्टर नागेश ने बताया कि बच्चे का नाम राज्य के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी के नाम पर “कुमारस्वामी” रखा गया है. स्थानीय लोग उसे Government’s Baby कहकर बुला रहे हैं. फिलहाल उसे एक चिल्ड्रेन होम में रखा गया है. बेंगलुरू पुलिस ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा है, “हम अपनी लेडी पुलिस कांस्टेबल अर्चना के मातृत्व को सैल्यूट करते हैं, जिसने एक त्यागे हुए बच्चे को न सिर्फ बचाया बल्कि अपना दूध भी पिलाया.” इस पोस्ट पर बहुत से लोग अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं.

मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने ट्वीट किया है कि वह इस घटना से बहुत प्रभावित हुए हैं और उस महिला पुलिसकर्मी से मिलकर उसका आभार जताना चाहते हैं जिसने एक नवजात को नया जीवन दिया है.