60% आरक्षण के साथ सीमावर्ती इलाकों में बनेंगी 5 इंडिया रिजर्व बटालियन

679
India Reserve Battalion
जम्मू-कश्मीर की महिला पुलिस (फाइल फोटो)

जम्मू. केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को कहा कि सरकार राज्य में विशेष सशस्त्र पुलिस की सात और इंडिया रिजर्व बटालियन (India Reserve Battalion-आईआर) का गठन करेगी. गृह मंत्री ने कहा कि पाकिस्तानी गोलाबारी व गोलीबारी की स्थिति में जम्मू-कश्मीर के सीमावर्ती इलाकों में नागरिकों के शरण लेने के लिए करीब 14,500 सुरक्षा बंकरों का निर्माण किया जाएगा. राजनाथ ने शुक्रवार को राज्य के दो दिवसीय दौरे के समापन से पहले यह ऐलान किया.

उन्होंने कहा कि सीमावर्ती निवासियों के लिए 60 प्रतिशत आरक्षण के साथ पांच इंडिया रिजर्व बटालियन बनाई जाएंगी. जम्मू और घाटी के लिए एक-एक महिला बटालियन को तैनात किया जाएगा. यह राज्य में सुरक्षा को बढ़ाने के अलावा लगभग सात हजार युवा पुरुषों और महिलाओं को प्रत्यक्ष रोजगार भी देगा. मंत्री ने कहा कि इन बटालियनों में से दो को मोर्चे वाली चौकियों से 0-10 किलोमीटर के बीच आने वाले गांवों की रक्षा के लिए तैनात किया जाएगा.

गृह मंत्री ने कहा कि सरकार सीमावर्ती इलाकों में रहने वाले लोगों की सुरक्षा पर चिंतित है क्योंकि पाकिस्तानी सेना ने भारतीय क्षेत्रों को निशाना बनाकर गोलीबारी जारी रखी है. राजनाथ सिंह ने कहा, “लोगों की सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए सीमा के नजदीकी क्षेत्रों में प्रत्येक में 8-10 लोगों की क्षमता वाले 13,029 बंकरों और प्रत्येक में 40-50 लोगों की क्षमता वाले 1,431 सामुदायिक बंकरों का निर्माण किया जाएगा.” इससे पहले, राजनाथ सिंह ने जम्मू में आरएस पुरा और नौशेरा सीमावर्ती इलाकों का दौरा किया था.

 

गृह मंत्री राजनाथ सिंह
कुपवाड़ा जिला पुलिस लाइंस में गृह मंत्री राजनाथ सिंह के साथ सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस कर्मियों ने ग्रुप फोटो खिंचवाई. Photo/J&KPolice