एनसीसी दुनिया का सबसे बड़ा वर्दीधारी युवा संगठन बनने की राह पर , 3 लाख कैडेट्स बढ़ेंगे

22
राष्ट्रीय कैडेट कोर (file photo)

रक्षा मंत्रालय  ने  राष्ट्रीय कैडेट कोर यानि एनसीसी  (national cadet corps – NCC ) के विस्तार के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है. इस विस्तार से देश भर के शैक्षणिक संस्थानों में एनसीसी की बढ़ती मांग  पूरा होने  की उम्मीद की जा रही  है. इसके साथ ही एनसीसी के कैडेट्स की  मंजूरशुदा  तादाद 20 लाख पार हो जाएगी जो एक तरह का रेकॉर्ड होगा .  इसके साथ ही एनसीसी के ग्रुप हेड क्वाटर्स की संख्या भी बढेगी.

एक प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक़ रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने एनसीसी के विस्तार वाले इस प्रस्ताव को अपनी मंज़ूरी  दे दी है . इससे  एनसीसी के पास अब 20 लाख कैडेटों की स्वीकृत संख्या होगी, जो इसे दुनिया का सबसे बड़ा वर्दीधारी युवा संगठन बना देगी.

1948 जब एनसीसी शुरू हुई थी तब इसके गठन के समय 20,000 कैडेट थे. भारत की राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के अनुसार एनसीसी को एक वैकल्पिक विषय के रूप में पेश किए जाने के साथ, एनसीसी का यह विस्तार देश के भावी मार्गदर्शक के रूप में अहम भूमिका निभाने की युवाओं की आकांक्षाओं को पूरा करने की दिशा में बड़ा कदम होगा.

इस विस्तार से सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में रिक्तियों का आनुपातिक वितरण होगा और एनसीसी (ncc)  के इच्छुक शैक्षणिक संस्थानों की प्रतीक्षा सूची में कमी आएगी. इस विस्तार योजना में चार नए समूह मुख्यालयों और दो नई एनसीसी इकाइयों की स्थापना शामिल है.

इस विस्तार योजना का एक महत्वपूर्ण पहलू यह है कि इसमें पूर्व सैनिकों ( ex servicemen ) को एनसीसी प्रशिक्षकों के रूप में रोजगार देने का प्रस्ताव शामिल है, जिससे उनके कौशल और लंबे अनुभव का लाभ उठाया जा सके. इस पहल से एनसीसी कैडेटों को गुणवत्तापूर्ण प्रशिक्षण सुनिश्चित हो सकेगा और उनके लिए रोजगार के अवसर पैदा होंगे.

विज्ञप्ति में आशा व्यक्त की गई है कि यह विस्तार अनुशासन, नेतृत्व और सेवा की भावना से ओतप्रोत मार्गदर्शक तैयार करने के प्रति समर्पण का प्रतीक है.  एनसीसी का लक्ष्य एक ऐसा वातावरण तैयार करना है, जहां युवा राष्ट्र निर्माण में सार्थक योगदान दें.