101 साल पूरे करके चीर निद्रा में सो गए भारतीय सेना के लेफ्टिनेंट कर्नल देवराज डोगरा

35
वह पल जब लेफ्टिनेंट कर्नल देवराज डोगरा ने 100 वां जन्मदिन मनाया. उनके साथ उनके पुत्र सेवानिवृत्त मेजर जनरल विक्रम देव डोगरा.

भारतीय सेना के  जांबाज़ सिपाही  लेफ्टिनेंट कर्नल देवराज डोगरा ने जीवन की शतकीय पारी से भी एक साल अधिक बिताकर इस दुनिया को अलविदा कह दिया. उन्होंने अपने अपने घर में चीर निद्रा में अंतिम सांस ली. 101 साल के लेफ्टिनेंट कर्नल देवराज डोगरा भारतीय सेना की आयुध कोर ( ordnance corps ) में थे.

लेफ्टिनेंट कर्नल देवराज डोगरा , तीन बार आयरनमेन का शानदार मुकाबला पूरा करके रिकॉर्ड बनाने वाले ,  भारतीय सेना के मेजर जनरल विक्रम देव डोगरा के पिता भी थे. यह रिकॉर्ड कायम करने वाले विक्रम डोगरा दुनिया भर में जनरल स्तर के पहले सैन्य अधिकारी हैं .

लेफ्टिनेंट कर्नल देवराज डोगरा

14 अगस्त  1922 को जन्मे लेफ्टिनेंट कर्नल देवराज डोगरा  (lt col devraj dogra) ने बीते साल 2022 में अपने जीवन के सौ साल पूरे होने की ख़ुशी  शानदार तरीके से परिवार के साथ मनाई थी . इस अवसर पर  उसी आयुध कोर  ( ordnance corps ) की सैन्य टुकड़ी ने उनको सम्मान में  सलामी ( guard of honour ) दी थी जिसमें रहकर लेफ्टिनेंट कर्नल देवराज डोगरा  बरसों सेना व देश की सेवा की. फख्र से लबरेज़ यह बेहद भावुक पल थे जिनका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था .

पिता की मृत्यु का दुखद समाचार जनरल डोगरा ने आज  सोशल मीडिया पर साझा करते हुए मेजर जनरल विक्रम देव डोगरा ने  लिखा है ,” मुझे अत्यंत दुख के साथ सूचित करना पड़ रहा है कि मेरे प्रिय पिता लेफ्टिनेंट कर्नल देव राज डोगरा का 101 वर्ष की आयु में निधन हो गया. वह उस समय  घर में ही शांतिपूर्वक सो रहे थे. उनका जीवन लचीलेपन, ताकत और स्थायी प्रेम का एक प्रमाण था.  वह मेरी प्रेरणा और मेरे हीरो थे.  दुख के बावजूद, हम उनके साथ बिताए खूबसूरत पलों के लिए खुशी  मनाते हैं.. शांति…! .”

बेटे विक्रम के साथ कर्नल डोगरा
इस पोस्ट के साथ आयरनमेन ( ironman ) मेजर जनरल डोगरा ने पिता के साथ अपने बचपन की तस्वीर भी  साझा की है .