हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड से सेना के लिए 156 प्रचंड हेलिकॉप्टर खरीदे जाएंगे

40
हल्का लड़ाकू हेलिकॉप्टर प्रचंड

भारत के रक्षा मंत्रालय ने  हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) से 156 प्रचंड हेलिकॉप्टर (लाइट कॉम्बैट हेलीकॉप्टर – light combat helicopter) खरीदने के लिए अनुरोध प्रस्ताव (RFP) जारी किया है. इनमें से 90 हेलिकॉप्टर  भारतीय थल सेना के लिए और 66 भारतीय वायु सेना में तैनाती के लिए खरीदे जाने हैं . यह सौदा करीब 45000 करोड़ का बताया जाता है और इसे ‘ मेड इन इंडिया ‘ की अवधारणा के प्रोत्साहन के नजरिये से एक बड़ी उपलब्धि माना जा रहा है .

दिलचस्प है कि यह जानकारी रक्षा मंत्रालय या सेना के स्त्रोत से नहीं बल्कि  हिन्दुस्तान   एयरोनॉटिक्स लिमिटेड की तरफ से , भारतीय प्रतिभूति एवं विनियमन बोर्ड  (sebi – सेबी ) नियमों के तहत , बॉम्बे  स्टॉक एक्सचेंज  ( बीएसई bse ) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (nse ) को  लिखे पत्र  से  मिली है .    बेंगलुरु स्थित सार्वजनिक क्षेत्र के इस उपक्रम  ने सोमवार को एक विनियामक फाइलिंग में कहा है  ” सेबी  (सूचीबद्धता दायित्व और प्रकटीकरण आवश्यकताएँ) विनियम, 2015 के विनियमन 30 के अनुसार, हम यह सूचित करना चाहते हैं कि रक्षा मंत्रालय द्वारा 156 लाइट कॉम्बैट हेलीकॉप्टर (IA के लिए 90 और IAF के लिए 66) की खरीद के लिए अनुरोध प्रस्ताव (RFP) जारी किया गया है..

प्रचंड खरीदने के लिए जारी अनुरोध प्रस्ताव

प्रचंड हेलिकॉप्टर की खास बातें :


हल्का  लड़ाकू हेलिकॉप्टर प्रचंड हवा से जमीन और हवा से हवा में मार करने वाली मिसाइलों की एक श्रृंखला को दागने में सक्षम है.  यह दुनिया का एकमात्र लड़ाकू हेलीकॉप्टर है जो 5,000 मीटर (16,400 फीट) की ऊंचाई पर भी  उतर सकता है और उड़ान भर सकता है. इसकी यह क्षमता  इसे सियाचिन ग्लेशियर और पूर्वी लदाख  के अधिक  ऊंचाई वाले क्षेत्रों में संचालन के लिए आदर्श बनाती  है.

प्रचंड हेलिकॉप्टर ( prachand helicopter ) हवा से जमीन और हवा से हवा में मार करने वाली मिसाइलों को भी दागने में सक्षम है लिहाज़ा दुश्मन के हवाई रक्षा अभियानों को नष्ट कर सकता है.