कठोर किस्म के कैदियों को सुधारने के लिए पुडुचेरी जेल प्रशासन को निर्देश

505
किरण बेदी
पुडुचेरी सेन्ट्रल जेल के दौरे के दौरान अधिकारियों को निर्देश देतीं किरण बेदी. (Photo/Twitter handle from Kiran Bedi)

दिल्ली की जेल में सुधार सम्बन्धी कई सफल प्रयोग के लिए ख्याति प्राप्त पूर्व आईपीएस अधिकारी और अब पुडुचेरी की उपराज्यपाल बन चुकीं किरण बेदी ने यहाँ के उन कठोर किस्म के कैदियों के लिए सुधार कार्यक्रम की रूपरेखा तैयार करने के निर्देश दिए हैं जो कैदी बदले की भावना के असर से जुर्म करने का विचार जेहन में पाले रखते हैं.

पुडुचेरी सेन्ट्रल जेल के दौरे के वक्त मंगलवार 24 अप्रैल को अधिकारियों के साथ बैठक में किरण बेदी ने इस बाबत निर्देश देते हुए कहा कि इस कार्यक्रम को लागू करने के लिए मानक तैयार किये जाएँ और प्रकिया तय की जाए. उन्होंने कहा कि सुधार कार्यक्रम के तहत कदम दर कदम आगे बढा जाना चाहिए. इसके लिए  Standard Operating Procedure बनाने और लागू करने की उन्होंने जरूरत बताई.

किरण बेदी
पुडुचेरी सेन्ट्रल जेल में दाखिल होती हुई उपराज्यपाल किरण बेदी. (Photo/Twitter handle from Kiran Bedi)
किरण बेदी
पुडुचेरी सेन्ट्रल जेल के दौरे के वक्त अधिकारियों के साथ बैठक में किरण बेदी. (Photo/Twitter handle from Kiran Bedi)

श्रीमती बेदी के मुताबिक़ इस सुधार कार्यक्रम के लिए पुडुचेरी विश्वविद्यालय के मनोविज्ञान, अपराधशास्त्र और समाज विज्ञान विभागों के विशेषज्ञों की मदद ली जायेगी ताकि ऐसे कैदियों के नागरिक व्यवहार को ठीक करने का काम किया जा सके. इसके अलावा कैदियों के सुधार में आर्ट आफ लिविंग और अन्य समाज सेवी संस्थाओं का सहयोग भी लिया जाए.

यहाँ उल्लेखनीय है कि दिल्ली की जेल में सुधार कार्यक्रमों और इस क्षेत्र में किये गये अन्य कामों की वजह से उन्हें रमन मेगसेसे पुरस्कार से सम्मानित भी किया गया था. वह दिल्ली की महानिरीक्षक (कारागार) रह चुकी हैं.