CBI ने रिश्वतखोरी में 2 अधिकारी गिरफ्तार किये गये

309
सीबीआई
प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली. सीबीआई ने शनिवार को कहा कि उसने सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यम, राइट्स के एक महाप्रबंधक (सिविल) और उसके परियोजना प्रबंधक को लंबित बिलों को क्लियर करने के लिए रिश्वत मांगने के आरोप में गिरफ्तार किया है.

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के एक अधिकारी ने कहा, “भारतीय दंड संहिता की धारा 120-बी और भ्रष्टाचार निवारक अधिनियम की धारा सात, 12, और 13(2) के तहत राइट्स के महाप्रबंधक के. वेंकटेश्वरा राव और उनके परियोजना प्रबंधक शंकर के खिलाफ एक मामला दर्ज किया गया है. यह मामला 1.5 करोड़ रुपये के बिल क्लियर करने के एवज में केवीआर इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड से 15 लाख रुपये रिश्वत मांगने के लिए दर्ज किया गया है.”

अधिकारी ने कहा कि सीबीआई ने गिरफ्तार दोनों अधिकारियों के कार्यालय और आवासीय परिसरों की तलाशी ली. उन्होंने कहा, “उन्हें 29 अप्रैल को एक सीबीआई अदालत में पेश किया जाएगा और उनसे आगे की पूछताछ के लिए उन्हें हिरासत में लेने की मांग की जाएगी.”

राइट्स भारत सरकार का एक उद्यम है, जो रेल मंत्रालय के अधीन आता है.