विवेक राम चौधरी ने भारतीय वायु सेना के 27वें चीफ का काम संभाला

38
मार्शल विवेक राम चौधरी
मार्शल विवेक राम चौधरी ने नई दिल्ली स्थित वायु भवन में सैनिक रस्मों के साथ भारतीय वायु सेना के प्रमुख के तौर पर कार्यभार संभाला.

मार्शल विवेक राम चौधरी ने गुरुवार (30 सितंबर) को नई दिल्ली स्थित वायु भवन में सैनिक रस्मों के साथ भारतीय वायु सेना के प्रमुख के तौर पर कार्यभार संभाला. एयर चीफ मार्शल के पद से राकेश कुमार सिंह भदौरिया के रिटायर होने के बाद भारत के चीफ ऑफ़ एयर स्टाफ बने विवेक राम चौधरी भारतीय वायु सेना के 27 वें प्रमुख हैं. अब से पहले विवेक राम चौधरी भारतीय वायु सेना के उप प्रमुख थे. उनकी जगह एयर मार्शल संदीप सिंह को भारतीय वायु सेना में बतौर उप प्रमुख बनाया गया है.

मार्शल विवेक राम चौधरी
मार्शल विवेक राम चौधरी ने नई दिल्ली स्थित वायु भवन में सैनिक रस्मों के साथ भारतीय वायु सेना के प्रमुख के तौर पर कार्यभार संभाला.

30 सितंबर 2021 को चीफ ऑफ़ एयर स्टाफ (CoAS) के तौर पर रिटायर हुए एयर मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया ( air chief marshal rks bhadauriya) ने वायुसैनिक के तौर पर सेना में अपने करियर की आखिरी उड़ान हाल ही में भरी थी.

मार्शल विवेक राम चौधरी :

29 दिसंबर, 1982 को वायु सेना में शामिल हुए एयर मार्शल विवेक राम चौधरी ने 1 जुलाई 2021 को भारत के उप वायुसेना प्रमुख का ओहदा संभाला था.

मार्शल विवेक राम चौधरी
एयर चीफ मार्शल विवेक राम चौधरी

सरकार ने पिछले हफ्ते मार्शल वीआर चौधरी (Air Marshal Vivek Ram Chaudhari ) की वायु सेना में प्रमुख के तौर पर नियुक्ति के फैसले का ऐलान किया था. वायुसेना का उप प्रमुख बनाए जाने से पहले एयर मार्शल चौधरी भारतीय वायुसेना की पश्चिमी वायु कमान (WAC) के कमांडर-इन-चीफ के तौर पर तैनात थे. वायु सेना की पश्चिम कमान अति संवेदनशील लद्दाख क्षेत्र के साथ ही उत्तर भारत के अन्य हिस्सों में देश के वायु क्षेत्र की सुरक्षा की जिम्मेदारी भी संभालती है.

मार्शल विवेक राम चौधरी
एयर चीफ मार्शल के पद से रिटायर होने से पहले राकेश कुमार सिंह भदौरिया नेशनल वार मेमोरियल में शहीदों को श्रद्धासुमन अर्पित किए.

एयर चीफ मार्शल विवेक चौधरी को कई तरह के लड़ाकू और प्रशिक्षण विमानों पर 3800 घंटे से अधिक उड़ान भरने का तजुर्बा है. कई अहम पदों पर सेवा दे चुके मार्शल विवेक राम चौधरी अग्रिम मोर्चे पर तैनात लड़ाकू स्क्वाड्रन के कमांडिंग ऑफिसर रह चुके हैं. यही नहीं विवेक राम चौधरी फ्रंटलाइन फाइटर बेस की भी कमान संभाल चुके हैं. वो एक काबिल उड़ान प्रशिक्षक और उपकरण रेटिंग प्रशिक्षक के साथ साथ परीक्षक की भी पहचान रखते हैं.

मार्शल विवेक राम चौधरी
एयर चीफ मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया ने गार्ड आफ आनर का निरीक्षण किया.

इसकी वजह ये है कि मार्शल विवेक चौधरी ने तकरीबन 38 साल के अपने करियर में भारतीय वायुसेना के विभिन्न प्रकार के जो लड़ाकू और प्रशिक्षण विमान उड़ाए हैं उनमें मिग-21 (MIG 21) , मिग-23 एमएफ, मिग-29 और सुखोई-30 एमकेआई Su MKI) लड़ाकू विमान शामिल हैं.