दिल्ली पुलिस में तैनात दानिप्स अधिकारी तरक्की पाकर एडीशनल डीसीपी बने

33
दिल्ली पुलिस प्रमोशन
दिल्ली पुलिस के प्रमोशन पाए अधिकारी आयुक्त राकेश अस्थाना के साथ.

दिल्ली अंडमान निकोबार , लक्षद्वीप , दादर व नागर हवेली , दमन , दीव पुलिस सेवा (Delhi, Andaman and Nicobar Islands, Lakshadweep, Dadra and Nagar Haveli and Daman and Diu Police Service – DANIPS – दानिप्स) कैडर के दिल्ली पुलिस में तैनात तीन अधिकारियों को तरक्की देकर अतिरिक्त उपायुक्त बनाया गया है. ये तीनों पुलिस अधिकारी दस साल पहले दानिप्स सेवा के अधिकारी के तौर पर भर्ती हुए थे.

दिल्ली पुलिस प्रमोशन
दानिप्स सेवा के 2011 बैच की तनु शर्मा.

केंद्र शासित क्षेत्रों में तैनात किये जाने वाले दानिप्स सेवा के 2011 बैच के ये तीन अधिकारी तनु शर्मा, उमा शंकर और रवि कान्त अभी तक सहायक पुलिस आयुक्त (एसीपी – ACP) थे. दिल्ली पुलिस के कमिश्नर राकेश अस्थाना ने कल दिल्ली पुलिस मुख्यालय में एक सादे समारोह के दौरान तीनों अधिकारियों को अतिरिक्त उपायुक्त (Additional DCP – एडीशनल डीसीपी) के रैंक लगाए.

दिल्ली पुलिस प्रमोशन
दानिप्स सेवा के 2011 बैच के रवि कान्त.

दिल्ली पुलिस ने ट्वीट करके इस संबंध में जानकारी शेयर की है. इसके मुताबिक नये रैंक फीत लगाए जाने के इस समारोह का आयोजन दिल्ली पुलिस मुख्यालय के विमर्श सभागार में किया गया और इस मौके पर दिल्ली पुलिस के अनेक बड़े अफसर भी खासतौर पर मौजूद थे.

दिल्ली पुलिस प्रमोशन
दानिप्स सेवा के 2011 बैच के उमा शंकर.

बहुत से लोगों के मन में ये सवाल उठता है कि ये दानिप्स सेवा क्या है? तो उनके लिए बता दें कि दानिप्स कैडर, भारतीय पुलिस सेवा (Indian Police Service – IPS आईपीएस) से संबद्ध सेवा है जिसके अधिकारी उल्लेखित केंद शासित क्षेत्रों में ही तैनात किये जाते हैं. समय समय पर भारत के प्रांतीय राजनीतिक बदलाव के कारण सरकार पुलिस सेवा के इस कैडर के क्षेत्र में बदलाव करती रहती है. इस सेवा के अधिकारी भी संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी – UPSC) की वही सिविल सर्विस परीक्षा पास करते हैं जिसके ज़रिए आईपीएस (IPS ), आईएएस (IAS) या आईएफएस (IFS) के तौर पर अधिकारीयों को चुना जाता है. इनको मेरिट लिस्ट में मिले अंकों के आधार पर सेवा आवंटित की जाती है.