शहीद पति सी वर्दी पहन लेफ्टिनेंट बनी कश्मीर की बेटी नीतिका

328
नीतिका कौल
अब लेफ्टिनेंट नीतिका कौल

कश्मीर की बेटी से उत्तराखंड की पुत्रवधू बनी नीतिका कौल ढौंडियाल की उस सैनिक वर्दी पर जब भारतीय सेना की उत्तरी कमांड के कमानाधिकारी लेफ्टिनेंट जनरल वाईके जोशी ने सितारे लगाये जैसी वर्दी नीतिका के पति शहीद मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल पहना करते थे तो वो भावुक क्षण हर किसी के लिए आँखों में नमी लेकिन फख्र का भाव लेकर आये. नीतिका के पति मेजर ढौंडियाल ने कश्मीर के पुलवामा बस 27 महीने पहले ही मेजर ढौंडियाल ने देश के दुश्मन आतंकवादी घुसपैठियों से मुकाबले के दौरान जान गंवाई थी.

नीतिका कौल
अब लेफ्टिनेंट नीतिका कौल

कोविड 19 प्रोटोकॉल के नियमों के बीच 29 मई 2021 को चेन्नई स्थित ऑफिसर्स ट्रेनिंग एकेडमी (ओटीए) में एक संक्षिप्त और सादे से समारोह में वे नीतिका की वर्दी पर लेफ्टिनेंट के सितारे लगाते हुए लेफ्टिनेंट जनरल जोशी ने नीतिका को उज्ज्वल सैन्य भविष्य की शुभकामनायें दी. 2019 की उन सर्दियों में जब नीतिका के पास अपने पति मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल के पुलवामा में शहीद होने की सूचना मिली तब उनकी शादी को बमुश्किल से 9 महीने का ही अरसा हुआ था. नीतिका तब 27 बरस की थीं. मेजर ढौंडियाल को, अपनी जान की परवाह न करते हुए आतंकवादियों से मुकाबला करने और साहस और शूरवीरता के प्रदर्शन के लिए शौर्य चक्र (मरणोपरांत) से सम्मानित किया गया था.

नीतिका कौल
अब लेफ्टिनेंट नीतिका कौल कमीशन प्राप्त करने के बाद उनकी साथी ने उन्हें कंधे पर बिठा लिया.

वो तारीख थी 18 फरवरी 2019 जब ‘जैश ए मोहम्मद’ के खतरनाक आतंकवादियों से मुकाबले में भारतीय सुरक्षा बल के पांच जवानों की जान गई थी. मेजर ढौंडियाल भी उन्हीं में थे. माना जाता है कि इस मुकाबले मारे गये आतंकवादियों में जैश ए मोहम्मद के वो 2 टॉप कमांडर भी थे जिनका 4 दिन पहले पुलवामा में सीआरपीएफ जवानों की बस पर हुए हमले के पीछे हाथ था. ये आत्मघाती हमला हाल ही के बरसों में कश्मीर में हुई आतंकवादी वारदात में से सबसे भयानक थी. इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवानों की जान गई थी.

नीतिका कौल
पुलवामा में मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल की सद्गति के बाद उनके पार्थिव शरीर के पास नीतिका कौल (फाइल)

पति मेजर विभूति शंकर से मिली प्रेरणा और देश सेवा की भावना से ओत प्रोत नीतिका कौल ढौंडियाल सेना में जाने का फैसला लिया और इसके लिए शोर्ट सर्विस कमीशन का रास्ता चुना. परीक्षा और इंटरव्यू पास करने की बाद एक साल के कड़े प्रशिक्षण के बाद आखिर नीतिका कौल ढौंडियाल उधमपुर स्थित मुख्यालय वाली उत्तरी कमांड में बतौर लेफ्टिनेंट सेना में आ गईं.

शहीद मेजर ढौंडियाल की पत्नी नीतिका 29 मई को सेना में शामिल होंगी