NSG half marathon : सिर पर फुटबाल रखकर दौड़ने का रिकार्ड बनायेंगे सूबेदार आजाद सिंह

1104
सूबेदार आजाद सिंह
सिर पर फुटबाल के साथ दौडते सूबेदार आजाद सिंह. फाइल फोटो

भारत की आर्थिक राजधानी मानी जाने वाली मुंबई नगरी पर दस साल पहले हुए आतंकवादी हमले में पराक्रम दिखाते हुए शहीद हुये सुरक्षाकर्मियों को समर्पित मैराथन ‘प्रवाह’ में भारतीय सेना के सूबेदार आजाद सिंह आकर्षण का खास केंद्र होंगे. भारत की राजधानी दिल्ली में रविवार 18 नवम्बर 2018 को होने वाली इस दौड़ में सिर पर फुटबाल रख कर 10 किलोमीटर तक दौड़ेंगे और विश्व रिकार्ड बनायेंगे. जवाहरलाल स्टेडियम से शुरू होने वाली इस हाफ मैराथन का आयोजन राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (NSG) कर रही है जिसके कई जांबाज़ कमांडो ने मुम्बई में 26 नवम्बर 2008 को हमला करने वालों का साहसपूर्ण तरीके से मुकाबला किया था और कुछ ने तो प्राणों की बाज़ी भी लगाई थी.

हाफ मैराथन ‘प्रवाह’ के विजेता के लिए इनामी राशि.

21 किलोमीटर की ‘हाफ मैराथन’ में अलग अलग किस्म की और भी दौड़ हैं लेकिन पहले से ही अलग अलग कारनामे करके लिम्का बुक और गिनीज़ बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकार्ड में अपना नाम दर्ज करा चुके सूबेदार आजाद सिंह इसमें 10 किलोमीटर तक दौड़ेंगे. उनके सिर पर फुटबाल होगी जिसके साथ वो अधिकतम रफ़्तार से यहाँ दौड़ कर नया रिकार्ड बनाने का प्रयास करेंगे. इससे पहले ये रिकार्ड ब्रिटेन के डेनियल कटिंग के नाम था जिन्होंने 2011 सिर पर फ़ुटबाल रखकर 100 मीटर की दौड़ 18.15 सेकंड में पूरी की थी.

राजस्थान के झुंझुंनुं जिले के बड़ागांव के रहने वाले वाले सूबेदार आजाद सिंह भारतीय सेना की सिग्नल कोर में हैं और दो साल पहले उन्होंने मध्य प्रदेश के जबलपुर में सिर पर फ़ुटबाल रखकर दौड़ने का विश्व कीर्तिमान बनाया था. तब उन्होंने सिर पर संतुलन बनाकर रखी गई फ़ुटबाल के साथ 100 मीटर की ये दौड़ 17 .07 सेकंड में पूरी की.

भारतीय सेना के सूबेदार आजाद सिंह ने उससे पहले 2014 सिर पर फ़ुटबाल रखकर 45.65 किलोमीटर का फासला तय करने का रिकार्ड बनाते हुए, बंगलादेश के अब्दुल हलीम का 2011 में बनाया रिकार्ड तोड़ा था. अब्दुल हलीम ने 22 अक्टूबर 2011 को 15.2 किलोमीटर चलने का रिकार्ड बनाया था. वैसे सूबेदार आजाद सिंह का, सिर पर संतुलन के साथ फ़ुटबाल रखकर, सबसे ज्यादा रफ्तार से सबसे लम्बा फासला तय करने का रिकार्ड नाइजीरिया के फुटबालर हेरिसन शिनेडू ने लागोस में 48.04 किलोमीटर का फासला 6 घंटे15 मिनट में तय करके तोड़ा था.

इससे पहले गोवा में 45 किलोमीटर का फासला 8 घंटे 32 मिनट में तय करने का रिकार्ड भी आजाद सिंह ने बनाया था. वह सिर पर बोतल रखकर 10 किलोमीटर का फासला 6 घंटे 7 मिनट में तय करने का भी रिकार्ड बना चुके हैं.