चंडीगढ़ में फुटबॉल के लिए बनता शानदार माहौल, पुलिस भूमिका से खेलप्रेमी उत्साहित

108
चंडीगढ़ पुलिस फुटबॉल
चंडीगढ़ पुलिस शहीद मेमोरियल ट्रॉफी 2021 के फाइनल मुकाबले में मुख्य अतिथि के तौर पर मौजूद चंडीगढ़ पुलिस के महानिदेशक प्रवीर रंजन ने खिलाड़ियों को ट्रॉफी और पुरस्कार दिए.

हरियाणा और पंजाब की संयुक्त राजधानी केंद्र शासित क्षेत्र चंडीगढ़ की पुलिस फुटबॉल को ज़बरदस्त तरीके से बढ़ावा दे रही है और इसी मुहिम के तहत चंडीगढ़ पुलिस शहीद मेमोरियल ट्रॉफी 2021 नाम से टूर्नामेंट का आयोजन किया गया. राज्य स्तरीय इस फुटबॉल मुकाबले में 22 टीमों ने हिस्सा लिया और जीत का सेहरा ला प्रोफेसर फुटबॉल क्लब के माथे पर सजा.

ड्यूटी के दौरान जान गंवाने वाले पुलिसकर्मियों को समर्पित चंडीगढ़ पुलिस शहीद मेमोरियल ट्रॉफी 2021 ( chandigarh police shaheed memorial trophy 2021) का फाइनल मुकाबला चंडीगढ़ में सेक्टर 26 स्थित पुलिस लाइन्स मैदान में खेला गया जिसमें ला प्रोफेसर फुटबॉल क्लब ने लिबर्टी फुटबॉल क्लब को हराया. इस मौके पर मुख्य अतिथि के तौर पर मौजूद चंडीगढ़ पुलिस के महानिदेशक प्रवीर रंजन ने खिलाडियों को ट्रॉफी और पुरस्कार दिए जबकि टूर्नामेंट आयोजन करने में भूमिका निभाने वालों को भी प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया गया. शहीद पुलिसकर्मियों को समर्पित इस फुटबॉल ट्रॉफी का ये चंडीगढ़ में पहला आयोजन है.

चंडीगढ़ पुलिस फुटबॉल
चंडीगढ़ पुलिस शहीद मेमोरियल ट्रॉफी 2021 का फाइनल मुकाबला

चंडीगढ़ पुलिस की फुटबॉल को बढ़ावा देने की मुहिम के बारे में चंडीगढ़ फुटबॉल एसोसिएशन (chandigarh football association) के अध्यक्ष के पी सिंह ने बताया कि 22 टीमों के जिन खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया वे सभी चंडीगढ़ के क्लबों से जुड़े हुए वो नौजवान हैं जो ट्राईसिटी में रहते हैं. इनमें से कई तो ऐसे हैं जो बहुत ही छोटा मोटा रोज़गार करके जीवन बसर करते हैं. उन्होंने कहा कि चंडीगढ़ पुलिस में डीआईजी ओमवीर सिंह फुटबॉल के खेल में भी विशेष रूचि रखते हैं जो खुद भी फुटबॉल प्लेयर रहे हैं.

चंडीगढ़ में फुटबॉल की लोकप्रियता बढ़ाने में पुलिस के अभियान से महानिदेशक प्रवीर रंजन भी उत्साहित हैं. उन्होंने कहा कि इससे न सिर्फ खेलों और स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता आती है बल्कि युवा वर्ग को एक अच्छी दिशा भी मिलती. ऐसे आयोजनों से युवाओं की शक्ति और ऊर्जा को सकारात्मकता की तरफ मोड़ने में मदद मिलती है जो किसी भी समाज की तरक्की के लिए ज़रूरी है. उन्होंने कहा कि इस तरह के आयोजनों में उन युवाओं को व्यस्त रखने में भी मदद मिलती है जिनके नशे आदि जैसे गलत रास्ते में भटक जाने की आशंका रहती है.

चंडीगढ़ पुलिस फुटबॉल
चंडीगढ़ पुलिस शहीद मेमोरियल ट्रॉफी 2021 का फाइनल मुकाबला

पुलिस प्रमुख प्रवीर रंजन ने बताया कि पुलिस और फुटबॉल एसोसिएशन के प्रयासों से फूटबाल के खेल को लेकर चंडीगढ़ में जो माहौल बना है वो पहली बार देखने को मिला है. यही नहीं भारत में फुटबाल के लोकप्रिय टूर्नामेंट संतोष ट्रॉफी के कुछ मुकाबले भी इस चंडीगढ़ में हो रहे हैं. 21 नवंबर से 29 नवंबर के बीच संतोष ट्रॉफी (santosh trophy) के नार्थ ज़ोन के क्वालीफायर ग्रुप ऐ (Group A ) के 10 मैच होंगे जिसमें चंडीगढ़, सर्विसेज, जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तर प्रदेश की टीमें हिस्सा लेंगी.

चंडीगढ़ पुलिस शहीद मेमोरियल ट्रॉफी 2021 के चार दिन चले फुटबॉल मुकाबलों की शुरुआत 26 अक्टूबर को हुई थी. ये मुकाबले पुलिस लाइन्स ग्राउंड और चंडीगढ़ के सेक्टर 46 स्थित स्टेडियम में खेले गये. 29 अक्टूबर को चंडीगढ़ पुलिस शहीद मेमोरियल ट्रॉफी 2021 के फाइनल मुकाबलों को देखने के लिए खुद पुलिस महानिदेशक प्रवीर रंजन, डी आई जी ओमवीर सिंह, चंडीगढ़ के एसएसपी कुलदीप चहल, एसपी मनोज कुमार मीणा समेत अन्य कई अधिकारी उपस्थित थे. शहीद पुलिस कर्मियों के परिवारों को भी इस मौके पर आमंत्रित किया गया था. प्रायोजक के तौर पर एचडीएफसी बैंक और सेगा शूज़ का इस फुटबाल टूर्नामेंट में सहयोग रहा.