मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परम बीर के खिलाफ एफआईआर दर्ज

17
आईपीएस अधिकारी परमबीर सिंह
आईपीएस अधिकारी परमबीर सिंह

मुंबई पुलिस के पूर्व कमिश्नर आईपीएस अधिकारी परम बीर सिंह के खिलाफ धनवसूली के मामले में प्राथमिकी दर्ज की गई है. उन पर एक बिल्डर से 15 लाख रुपये वसूलने का इलज़ाम है. परम बीर के साथ इस मामले में एक डीसीपी समेत 5 पुलिसकर्मियों को भी एफआईआर में नामजद किया गया है. परम बीर वर्तमान में महाराष्ट्र में होमगार्ड्स के महानिदेशक हैं.

मुंबई के मैरीन ड्राइव थाने में 22 जुलाई को दर्ज की गई इस एफआईआर में इलज़ाम लगाया गया है कि परम बीर ने डीसीपी (पुलिस उपायुक्त) और अन्य पुलिसकर्मियों के ज़रिये 15 लाख रुपये की मांग की थी. इस एफआईआर में दो नागरिकों को भी नामजद किया गया है. इस प्राथमिकी में धन वसूली, धोखाधड़ी, जालसाज़ी और आपराधिक षड्यंत्र रचने जैसे अपराध से सम्बन्धित धाराएं लगाई गई हैं. परम बीर के अलावा इस केस में कई पुलिसकर्मियों के नाम हैं : डीसीपी (क्राइम ब्रांच) अकबर पठान, इन्स्पेक्टर श्रीकांत शिंदे, आशा कोरके, नन्द कुमार गोपाले और संजय पाटिल.

उल्लेखनीय है कि इससे पहले इसी साल पुलिस अधिकारी सचिन वाज़े की गिरफ्तारी और बर्खास्तगी के बाद परम बीर सिंह को मुम्बई के पुलिस आयुक्त पद से हटा दिया गया था.