इंस्पेक्टर मसरूर की हालत नाज़ुक , डीजीपी आर आर स्वेन हाल जानने अस्पताल पहुंचे

33
जम्मू कश्मीर के डीजीपी आर आर स्वेन घायल इंस्पेक्टर मसरूर अहमद वाणी का हालचाल जानने के लिए अस्पताल पहुंचे

केंद्र शासित क्षेत्र जम्मू कश्मीर के पुलिस महानिदेशक राशि रंजन स्वेन  घायल  इंस्पेक्टर  मसरूर अहमद वाणी का हालचाल जानने के लिए  कल शाम श्रीनगर स्थित शेर ए कश्मीर इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंसेज ( SKIMS) पहुंचे. उन्होंने वहां डॉक्टरों से बात की और परिवार वालों से भी मिले. साथ ही आश्वासन दिया कि पुलिस और प्रशासन तंत्र इंस्पेक्टर मसरूर को बेहतरीन ईलाज कराने में कोई कसर नहीं छोड़ेगा.

इंस्पेक्टर मसरूर पर श्रीनगर में उस समय सरेआम  पिस्तौल से गोलियां मारी गई थीं जब वह श्रीनगर में अपने घर से कुछ फासले पर क्रिकेट मैदान में इलाके के युवाओं के साथ क्रिकेट खेल रहे थे. यह 29 अक्तूबर को रविवार सुबह  की घटना है जब वहां काफी लोग मौजूद थे. हमलावर इंस्पेक्टर मसरूर पर गोलियां दागने के बाद हवाई फायरिंग से खौफ  पैदा कर फरार होने में कामयाब रहा . हालाँकि इसे टारगेट किलिंग की तरह का आतंकवादी हमला माना जा रहा है लेकिन पुलिस ने हमले या हमलावर के बारे में अभी कोई जानकारी साझा नहीं की है .

घायल  इंस्पेक्टर मसरूर अहमद वाणी का हाल जानने के लिए पुलिस प्रमुख श्री स्वेन के साथ कश्मीर के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक ( एडीजीपी )   विजय कुमार , श्रीनगर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ( एसएसपी ) आशीष मिश्रा और इलाके के अन्य अधिकारी भी थे.

स्कीम्स में चिकित्सा अधीक्षक फारूक जॉन ने बताया कि घायल इंस्पेक्टर मसरूर वाणी की हालात नाज़ुक बनी हुई है और वह लगातार जीवन रक्षक प्रणाली पर हैं. श्री स्वेन ने घायल इंस्पेक्टर को बेहतर से बेहतर मुमकिन ईलाज मुहैया कराने के लिए कहा .  एमएस डॉ जॉन ने विस्तार से ईलाज के बारे में डीजीपी को जानकारी दी.

श्री स्वेन ने अस्पताल में मौजूद इंस्पेक्टर मसरूर के पिता से मुलाक़ात की और उनको आश्वस्त किया कि उनके बेटे के उपचार में कोई कमी नहीं छोड़ी जाएगी. ज़रूरत पड़ने पर इंस्पेक्टर मसरूर को एयरलिफ्ट करके केंद्र शासित क्षेत्र जम्मू कश्मीर से बाहर भी ले जाया जाएगा . श्री स्वेन उपचार के दौरान फौरी तौर  खर्च के लिए  एक लाख की आर्थिक मदद भी उनको दी . श्री स्वेन ने कहा कि हज़ारो पुलिसकर्मियों और लोगों की दुयाएं इस तकलीफ वाले मौके पर परिवार  और घायल इंस्पेक्टर के साथ हैं . परिवार को बहादुरी के साथ इन परिस्थितियों का सामना करना चाहिए.

श्री स्वेन ने इंस्पेक्टर मसरूर वाणी के पिता के साथ अलग से लम्बी बातचीत की और हर तरह की मदद का भरोसा दिया, श्री स्वेन ने उनको बताया कि इंस्पेक्टर मसरूर की स्थित को लेकर तमाम लोग चिंतित हैं . केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ( amit shah )  , जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज कुमार सिन्हा  ( lg manoj sinha ) , मुख्य सचिव डॉ अरुण कुमार मेहता , अतिरिक्त मुख्य सचिव ( गृह ) आर के गोयल तथा कई वरिष्ठ अधिकारियों को इंस्पेक्टर मसरूर की हालत और उपचार के बारे में रोजाना ब्यौरा भेजा जाता है .