प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली में NCC कैडेट्स रैली को यूँ सम्बोधित किया

1141
NCC
एनसीसी कैडेट्स की सलामी गारद का निरीक्षण करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी.

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को नेशनल कैडेट कोर (NCC-एनसीसी) की रैली को संबोधित करते हुए कहा कि जब वह एनसीसी कैडेटों के बीच होते हैं पुरानी यादों से भर जाते हैं. उन्होंने इस बात पर खुशी ज़ाहिर कि एक साल में एनसीसी के कैडेट स्वच्छ भारत अभियान, डिजिटल लेन-देन जैसे अनेक महत्वपूर्ण कार्यक्रमों से जुड़े हैं. नई दिल्ली में एनसीसी रैली को सम्बोधित करते हुये उन्होंने केरल की बाढ़ के दौरान राहत और बचाव कार्यों में एनसीसी कैडेट्स के योगदान की तारीफ़ भी की.

NCC
एनसीसी कैडेटों से सलामी लेते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि अर्थव्यवस्था हो या रक्षा भारत की क्षमताओं का विस्तार हुआ है. उन्होंने कहा कि यद्यपि भारत शांति का समर्थक है, लेकिन भारत राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए कोई भी आवश्यक कदम उठाने में नहीं हिचकेगा. उऩ्होंने अपनी सरकार के सन्दर्भ में कहा कि पिछले साढे चार वर्षों में रक्षा और सुरक्षा के लिए अनेक महत्वपूर्ण निर्णय लिये गए हैं.

NCC
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एनसीसी कैडेट्स के कठिन परिश्रम की सराहना की.

एनसीसी कैडेट्स के कठिन परिश्रम की सराहना करते वक्त प्रधानमंत्री ने गांव और छोटे शहरों से आने वाले कैडेट्स का ज़िक्र किया और कहा कि एनसीसी के अनेक कैडेट्स ने देश को गौरवान्वित किया है. इस संदर्भ में उन्होंने प्रसिद्ध एथलीट हीमा दास का उल्लेख किया. श्री मोदी ने कहा कि कठिन परिश्रम और प्रतिभा सफलता तय करते हैं. उन्होंने कहा कि सरकार देश में वीआईपी संस्कृति के स्थान पर ईपीआई यानी एवरी पर्सन इज इम्पॉर्टेंट (प्रत्येक व्यक्ति महत्वपूर्ण है) संस्कृति लाने का प्रयास कर रही है.

उन्होंने कैडेटों से सभी तरह की नकारात्मकता को टालने और स्वयं तथा देश की बेहतरी के लिए काम करने का आग्रह किया. उन्होंने कहा कि महिलाओं को अवसर प्रदान करने के लिए और कार्यबल में उनकी भागीदारी बढ़ाने के लिए अनेक कदम उठाए जा रहे हैं. महिलाएं पहली बार भारतीय़ वायु सेना में लड़ाकू पायलट बनी हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वच्छ भारत और डिजिटल कार्यक्रमों में युवाओं की सक्रिय भागीदारी की सराहना की तथा कैडेट्स से सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के बारे में जागरूकता फैलाने का आग्रह किया. उन्होंने एनसीसी कैडेट्स से कहा कि वे आगामी चुनाव में बड़ी संख्या में वोट डालने के लिए युवाओं को प्रेरित करें.