मेरठ छावनी से पाकिस्तान को सूचनाएं भेजने के मामले में भारतीय सैनिक गिरफ्तार

850
सैनिक
मेरठ छावनी. फाइल फोटो

भारतीय सेना की ख़ुफ़िया इकाई (इंटेलिजेंस यूनिट) ने उत्तर प्रदेश के मेरठ छावनी क्षेत्र में तैनात एक सैनिक को गिफ्तार किया है. सिग्नल रेजिमेंट से ताल्लुक रखने वाला ये जवान मूलतः उत्तराखण्ड का रहने वाला है और उस पर, पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान तक, भारतीय सेना से जुड़ी अहम जानकारियाँ पहुँचाने का आरोप है.

सेना के प्रवक्ता ने गिरफ्तार किये गये जवान की पहचान फिलहाल गुप्त रखी है. लेकिन इतना बताया गया है कि वो जवान तकरीबन दो साल से मेरठ छावनी में तैनात था और पाकिस्तान में अपने संपर्क को व्हाट्स ऐप और कुछ अन्य ज़रियों से भी भारतीय सेना से सम्बन्धित अहम सूचनाएं भेजा करता था. संदिग्ध गतिविधियां सामने आने पर कुछ महीनों से उस पर करीब से नज़र रखी जा रही थी. जांच और पूछताछ के दौरान से पता चला कि ये भारतीय सैनिक लगभग छह महीने से पाकिस्तान वाले सम्पर्क से जुड़ा हुआ था.

इस मामले की छानबीन जारी है और इस मामले में जुड़े नेटवर्क का पता लगाने की कोशिश की जा रही है. अभी ये पता नहीं लग पाया कि ये जवान किस वजह से भारतीय सेना से सम्बन्धित सूचनाएं पाकिस्तानी सम्पर्क को दे रहा था.