भारतीय सैनिकों को डिजिटल पैटर्न वाली वर्दी पहनाने की तैयारी

64
भारतीय थल सेना
भारतीय थल सेना (प्रतीकात्मक फोटो)

भारतीय थल सेना की कैमोफ्लेज़ यूनिफ़ॉर्म अमेरिकन आर्मी की तर्ज़ पर बदले जाने की तैयारी चल रही है. सेना की इस नई कैमोफ्लेज़ यूनिफ़ॉर्म का रंग और डिजाइन भिन्न होगा जिसे डिजिटल प्रिंट (digital pattern) का कहा जाता है. नई छद्मावरण वर्दी 15 जनवरी 2022 को सेना दिवस (आर्मी डे – Army Day) पर सार्वजनिक की जाएगी.

भारतीय थल सेना की नई छद्मावरण वर्दी (camouflage uniform) पहले वाली वर्दी से ज्यादा टिकाऊ और आरामदायक डिज़ायन वाली बताई जाती है. 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस परेड के मौके पर भी भारतीय सैनिकों की टुकड़ी नई वर्दी के साथ नए किस्म के हथियारों के साथ परेड में नज़र आएगी. इस नई कैमोफ्लेज़ यूनिफ़ॉर्म का एक फायदा ये भी होगा कि ये केवल सेना के लिए होगी जबकि वर्तमान में विभिन्न संगठनों और खासतौर से अर्द्धसैनिक बलों के जवान भी वैसी ही वर्दी पहनते हैं जैसी कि सैनिकों की होती है. भारतीय सेना इसे लेकर ऐतराज़ भी करती रही है.

सेना को मिलने वाली नई वर्दी में शर्ट के निचले भाग को पैंट के भीतर नहीं डाला (tuck in) जायेगा यानि बेल्ट शर्ट के नीचे रहेगी जो दिखाई नहीं देगी. अधिकारियों का कहना है कि वर्दी को इस तरह के पैटर्न पर बनाया गया है जिससे पहनने वाले को ज्यादा से ज़्यादा आराम मिले.