जब सीमा पार पाकिस्तान में भी गूंजा भारतीय सेना का संगीत

18
भारतीय सेना
पुंछ के आखरी गांव में सेना ने किया म्यूजिक बैंड का आयोजन, पाकिस्तान को भी सुनाई दी देश भक्ति गानों की आवाज

जम्मू कश्मीर के सीमावर्ती इलाके पूंछ ज़िले के आख़री गांव में जब भारतीय सेना के लोकप्रिय सिंफनी बैंड ने धुनें बजाई तो उनकी गूंज उस पार पाकिस्तान में भी सुनाई दे रही थी. ये वो इलाका है जहां कभी बमों के धमाके होते थे आज उनकी जगह ड्रमों की थाप और वाद्ययंत्रों के मधुर संगीत ने ले ली.

भारतीय सेना
कार्यक्रम में सेना और स्थानीय प्रशासनिक अधिकारी भी पहुंचे.

रमज़ान के पवित्र महीने में अमन चैन का पैगाम देता ये मौका था थल सेना की कृष्णा घाटी ब्रिगेड की तरफ से आयोजित एक संगीत संध्या का. भारत का अमृत महोत्सव के तहत किया गया ये कार्यक्रम जहां किया गया वो झालास ग्राउंड कहलाता है. ये स्थान भारत पाकिस्तान सीमा से सिर्फ 200 मीटर के फासले पर है. ये संगीत उस पार तैनात पाकिस्तानी सैनिकों को भी सुनाई दे रहा था. असल में, इस कार्यक्रम के ज़रिये सेना भारत के इस हिस्से में अमन चैन होने का संदेश ज़ाहिर करना चाहती थी.

इस कार्यक्रम में सेना और स्थानीय प्रशासनिक अधिकारी भी पहुंचे. पूंछ के जिला विकास आयुक्त इंद्रजीत सिंह, जिला पुलिस अधिकारी रोहित बासकोत्रा विशेष तौर पर उपस्थित रहे.

कार्यक्रम के दौरान राही कपूर द्वारा ली गई तस्वीरें।