पाकिस्तानी लड़ाकू विमान F 16 को मार गिराने के ठोस सबूत

86
F 16
भारतीय वायुसेना ने पहली बार आधिकारिक तौर पर पाकिस्तान के F 16 लड़ाकू विमान को गिराए जाने के सबूत पेश किए.

जम्मू कश्मीर में नौशेरा में आसमान में पाकिस्तान से हुए टकराव (Dog Fight) के 6 हफ्ते बाद भारतीय वायुसेना ने पहली बार आधिकारिक तौर पर कहा कि उसके पास ऐसे भरोसेमंद सबूत हैं जो इशारा करते हैं कि पाकिस्तान वायुसेना (PAF) ने अपना F 16 लड़ाकू विमान गंवाया था.

F 16
भारतीय वायुसेना के सहायक प्रमुख (आपरेशंस) एयर वाइस मार्शल आर. जी. के. कपूर ने F 16 लड़ाकू विमान को गिराए जाने के सबूत पेश किए.

27 फरवरी को दोनों देशों की वायुसेनाओं के बीच ये टकराव तब हुआ था जब विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान का मिग 21 पाकिस्तान के F 16 से टक्कर लेने के लिए उसके सामने आ गया था. इस टकराव में मिग के क्षतिग्रस्त होने पर विंग कमांडर अभिनंदन ने खुद को इजेक्ट (Eject) कर लिया था और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (POK) में पैराशूट से उतरे थे.

भारतीय वायुसेना के सहायक प्रमुख (आपरेशंस) एयर वाइस मार्शल आर. जी. के. कपूर ने सोमवार को नई दिल्ली में प्रेस कांफ्रेंस करके उन सबूतों का खुलासा किया. उन्होंने कहा कि इस बात में कोई शक ही नहीं है कि 27 फरवरी को दो विमान गिरे थे. इलेक्ट्रानिक सिग्नेचर और वायरलेस संदेशों को लिपिबद्ध करने से पूरी तरह से पहचान हो जाती है कि उनमें एक मिग 21 था और दूसरा F 16.

वाइस मार्शल आर.जी.के. कपूर ने कहा कि सुरक्षा और गोपनीयता के मद्देनजर हम सूचनाओं को प्रतिबंधित कर रहे हैं.
भारतीय वायुसेना (IAF) की टीम ने राडार की वो इमेज दिखाई जो बताती है कि पाकिस्तान वायु सेना (PAF) के F 16 और JF 17 को ट्रैक किया गया. कुछ ही सेकंड्स के भीतर दो आकृतियां राडार में आई जो बताती हैं कि कैसे हमले से क्षतिग्रस्त होने के बाद F 16 विमान गिरा.

भारतीय वायुसेना के इस खुलासे को अमेरिकी मैगजीन ‘फारेन पालिसी’ की उस खबर के परिप्रेक्ष्य में देखा जा रहा है जिसमें कहा गया था कि पाकिस्तान ने उस टकराव में F 16 नहीं गंवाया. पत्रिका ने ये खबर उस घटनाक्रम से जुडे एक अमेरिकी अधिकारी के हवाले से छापी थी लेकिन उसके नाम का खुलासा नहीं किया था. खबर में कहा गया था कि पाकिस्तान के पास कुल 76 F 16 हैं और अमेरिका ने गिनती के बाद उन्हें सही पाया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here