फ्रांस के सेना प्रमुख जनरल पियरे शिल भारत के तीन दिन के दौरे पर

44
फ्रांसीसी सेना के जनरल पियरे शिल ने नई दिल्ली में राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित की

फ्रांसीसी सेना के जनरल पियरे शिल ने नई दिल्ली पहुंच कर राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित की. उनको यहां  साउथ ब्लॉक में  गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया.  जनरल शिल तीन दिवसीय भारत दौरे पर आज ही पहुंचे  हैं.  भारतीय सेना प्रमुख जनरल मनोज पांडे ने जनरल पियरे शिल से बातचीत की और द्विपक्षीय रक्षा सहयोग सहित आपसी हित के मुद्दों पर चर्चा की.

जनरल पियरे शिल 27 से 29 फरवरी 2024 तक भारत की यात्रा पर हैं. यात्रा की शुरुआत 27 फरवरी 2024 को राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर एक मार्मिक पुष्पांजलि समारोह के साथ हुई, जहां फ्रांसीसी जनरल ने भारतीय सशस्त्र बलों के शहीद नायकों को श्रद्धांजलि अर्पित की जिन्होंने देश के लिए सर्वोच्च बलिदान दिया.

इसके बाद,  साउथ ब्लॉक लॉन में फ्रांसीसी सेना के सेनाध्यक्ष जनरल शिल ( french army general pierre schill) को एक औपचारिक गार्ड ऑफ ऑनर दिया  गया, जिसके बाद उन्होंने जनरल मनोज पांडे और भारतीय सशस्त्र बलों के अन्य वरिष्ठ सैन्य नेतृत्व से मुलाकात की.  उन्होंने विचारों का आदान-प्रदान किया और दोनों सेनाओं के बीच द्विपक्षीय सहयोग को मजबूत करने सहित विभिन्न समसामयिक मुद्दों पर रचनात्मक चर्चा की.

सेना प्रमुख जनरल मनोज पांडे ने जनरल पियरे शिल से बातचीत की

एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, यात्रा के दौरान जनरल ऑफिसर रक्षा उद्योग के प्रतिनिधियों के साथ बातचीत करेंगे और राजस्थान में पिनाका फायरिंग  भी देखेंगे. वह जयपुर में सप्त शक्ति कमान का भी दौरा करेंगे और वरिष्ठ सैन्य कमांडरों के साथ बातचीत करेंगे.  29 फरवरी को जनरल पियरे शिल नई दिल्ली में नेशनल डिफेंस कॉलेज (एनडीसी ndc ) में अधिकारियों को संबोधित करेंगे.

रक्षा मंत्रालय ( defence ministry) की विज्ञप्ति में कहा गया कि जनरल पियरे शिल की यात्रा रक्षा, सुरक्षा और प्रौद्योगिकी में अपने रणनीतिक सहयोग को मजबूत करने के लिए फ्रांस और भारत की साझा प्रतिबद्धता को उजागर करती है.  दोनों देशों की सेनाओं के बीच इस तरह की द्विपक्षीय यात्राएं और विभिन्न अभ्यास सशस्त्र बलों और के बीच लंबे समय से चले आ रहे बंधन का प्रतीक हैं जो  क्षेत्रीय स्थिरता और अंतर्राष्ट्रीय सुरक्षा को बढ़ावा देने के लिए अपने समर्पण को सुदृढ़ करते हैं.