NDA 135 कोर्स कैडेट्स की खड़कवासला अकेडमी में शानदार पासिंग आउट परेड

136
NDA
सेना प्रमुख जनरल बिपिन सिंह रावत परेड की सलामी लेते हुए.

भारत की राष्ट्रीय रक्षा अकादमी (एनडीए-NDA) के 135 वें कोर्स के 250 से ज्यादा उन कैडेट्स और उनके परिवारों के लिए 30 नवम्बर 2018 का दिन हमेशा गौरव से भरपूर यादों में शुमार रहेगा जो महाराष्ट्र में पुणे के पास खड़कवासला के खेत्रपाल मैदान शानदार पासिंग आउट परेड समारोह का हिस्सा बने. भारत के सेना प्रमुख जनरल बिपिन सिंह रावत ने इस शानदार परेड का निरीक्षण किया. दिलचस्प है कि कोर्स में बेहतरीन प्रदर्शन करके मेडल हासिल करने वाले तीनों टॉपर्स जैप्रीत सिंह, स्वप्निल पराशर और ऋषभ गुप्ता अपने अपने परिवार की पहली पीढ़ी हैं जो सेना में शामिल हुई.

NDA
जनरल बिपिन सिंह रावत शानदार परेड का निरीक्षण करते हुए.

इस अवसर पर भारतीय सेनाध्यक्ष जनरल विपिन रावत ने भारतीय सेनाओं में उन क्षेत्रों की चर्चा भी की जहाँ-जहाँ महिलाओं को स्थायी कमीशन दिया जा सकता है.

आसमान में उड़ान भरते गर्जना करते लड़ाकू विमानों से अभिभूत कैडेट जैप्रीत ने तो जेईई की परीक्षा पास करने के बाद भी सेना में जाने का मन बनाया. स्वप्निल पराशर उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के सैनिक स्कूल से और ऋषभ गुप्ता मध्य प्रदेश के रीवा स्थित सैनिक स्कूल में पढ़ाई कर चुके हैं.

इससे एक दिन पहले NDA में दीक्षांत समारोह के दौरान कैडेट्स को जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी की डिग्री प्रदान की गई. एसोसिएशन ऑफ़ इंडियन यूनिवर्सिटीज के सेक्रेटरी जनरल प्रोफेसर फुरकान कमर दीक्षांत समारोह में मुख्य अतिथि थे. कुल मिलाकर 253 कैडेट्स को जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी की डिग्री दी गईं जिनमें से 48 विज्ञान, 146 कम्प्यूटर साइंस और 59 आर्ट्स क्षेत्र से थीं.

इस कोर्स में अलग अलग देशों से आये 8 कैडेट्स को भी डिग्री दी गई. NDA के कमांडेंट एयर मार्शल आईपी विपिन ने दीक्षांत समारोह को सम्बोधित किया. NDA कैडेट कैप्टन जैप्रीत सिंह को जनरल के सुंदरजी के हाथों से ‘चीफ ऑफ़ आर्मी स्टाफ’ ट्रॉफी (COAS Trophy) प्रदान की गई.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here