वाइस एडमिरल बिश्वजीत दासगुप्ता भारतीय नौसेना की पूर्वी कमान के चीफ बने

65
वाइस एडमिरल बिश्वजीत दासगुप्ता

वाइस एडमिरल बिश्वजीत दासगुप्ता ने भारतीय नौसेना की पूर्वी कमान के चीफ ऑफ़ स्टाफ का कार्यभार संभाल लिया है. उन्होंने शुक्रवार को विशाखापत्तनम में वाइस एडमिरल एस. एन. घोरमाडे की जगह ली. वाइस एडमिरल एस. एन. घोरमाडे का तबादला नई दिल्ली में रक्षा मंत्रालय स्थित एकीकृत मुख्यालय (नौसेना) में पर्सनल सर्विसेस कंट्रोलर के तौर पर किया गया है. विशिष्ट सेवा के लिए अति विशिष्ट सेवा पदक और विशिष्ट सेवा पदक से सम्मानित वाइस एडमिरल बिश्वजीत दासगुप्ता को वर्ष 2015 में ऑपरेशन राहत के तहत हिंसाग्रस्त यमन से लोगों को निकालने के काम में समन्वय के लिए युद्ध सेवा पदक भी मिल चुका है.

वाइस एडमिरल बिश्वजीत दासगुप्ता राष्ट्रीय रक्षा अकादमी के पूर्व छात्र हैं. उन्हें 1985 में भारतीय नौसेना में कमीशन मिला था और वह नौवहन और परिचालन (डायरेक्शन) में विशेषज्ञ हैं. वाइस एडमिरल बिश्वजीत दासगुप्ता ने मिसाइल वाहक पोत आईएनएस निशंक, आईएनएस कार्मुक, तेजतर्रार युद्धपोत आईएनएस ताबर और विमान वाहक युद्धपोत आईएनएस विराट समेत चार अग्रणी जहाजों का नेतृत्व किया है.

यही नहीं, वाइस एडमिरल बिश्वजीत दासगुप्ता ने इंडियन नेल वर्क अप टीम (कोच्चि) में कमांडर वर्क, डिफेंस सर्विसेस स्टाफ कॉलेज (वेलिंगटन) में डायरेक्टिंग स्टाफ, नौसेना के नेविगेशन एंड डायरेक्शन स्कूल में प्रभारी अधिकारी (ऑफिसर-इन-चार्ज) , चीफ ऑफ नेवल स्टाफ के नेवल असिस्टेंट और वेस्टर्न फ्लीट के फ्लीट ऑपरेशन ऑफिसर जैसे अन्य परिचालन, प्रशिक्षण और कर्मचारियों की नियुक्ति जैसी अहम जिम्मेदारियां भी निभाई हैं.

फ्लैग रैंक पर प्रोन्नति पर वाइस एडमिरल बिश्वजीत दासगुप्ता को नौसेना के मुंबई स्थित पश्चिम कमान में चीफ स्टाफ ऑफिसर (ऑपरेशन) के रूप में नियुक्त किया गया था. वर्ष 2017-18 के दौरान उन्होंने विशाखापट्टनम में प्रतिष्ठित ईस्टर्न फ्लीट की कमान संभाली थी और उसके बाद उन्हें एनसीसी मुख्यालय में अतिरिक्त महानिदेशक के तौर पर नियुक्त किया गया था. वाइस एडमिरल की रैंक पर प्रोन्नति पर और पूर्वी नौसेना कमान के चीफ के रूप में विशाखापट्टनम में उनकी वापसी से पहले वह एकीकृत मुख्यालय में उसी ओहदे पर थे जहां अभी वाइस एडमिरल एस. एन. घोरमाडे को भेजा गया है.

वाइस एडमिरल बिश्वजीत दासगुप्ता बांग्लादेश के डिफेंस सर्विसेस कमांड एंड स्टाफ कॉलेज, आर्मी वार कॉलेज, एमएचओडब्ल्यू और नई दिल्ली स्थित राष्ट्रीय रक्षा महाविद्यालय (नेशनल डिफेंस कॉलेज) से स्नातक हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here