कोविड-19 संकट ने रची खूबसूरत कहानी, दिल्ली पुलिस के सिपाही के नाम पर रखा बेटे का नाम

87
सिपाही दयावीर सिंह

देवी-देवताओं, वीरांगनाओं, महापुरुषों और सेलेब्रेटीज़ या फिर अपने बुजुर्गों के नाम पर तो अपने बच्चों के नाम बहुत लोग रखते हैं लेकिन राजधानी दिल्ली में एक महिला ने अपने बेटे का नाम दिल्ली पुलिस के सिपाही के नाम पर रखा है. सिपाही का नाम दयावीर सिंह और इस बच्चे का भी नाम रखा गया है दयावीर. दिल्ली पुलिस का ये सिपाही दयावीर सिंह उत्तर पश्चिम दिल्ली के अशोक विहार थाने में तैनात हैं और ये महिला भी इसी इलाके में रहती है. लेकिन बच्चे का वही नाम रखने की वजह यही नहीं है.

अस्पताल के बाहर जच्चा-बच्चा और सिपाही दयावीर

दरअसल, कोविड 19 संक्रमण से निपटने के लिए लागू किये गये लॉक डाउन के बीच हाल ही में इस गर्भवती महिला को दर्द शुरू हुआ था. महिला के पति ने मदद के लिए एम्बुलेंस मंगाने के लिए फोन कॉल किया लेकिन बार बार कॉल के बाद भी एम्बुलेंस नहीं पहुँच रही थी और दूसरी तरफ़ गर्भवती महिला की तकलीफ बढ़ रही थी. ऐसे में महिला को जल्द से जल्द अस्पताल पहुँचाने का साधन कोई और मिल नहीं रहा था. तभी गर्भवती महिला के पड़ोसी ने अशोक विहार थाने की एसएचओ इंस्पेक्टर आरती शर्मा को फोन पर सम्पर्क करके सारी बात बताई और महिला की मदद कराने का अनुरोध किया.

नवजात

सारा माजरा और स्थिति की गंभीरता को देखते हुए इन्स्पेक्टर आरती शर्मा ने इलाके में मौजूद सिपाही दया वीर सिंह को महिला की मदद कराने के लिए कहा. सिपाही दया वीर सिंह ने प्रसव पीड़ा से कराह रही महिला को अपनी कार से तुरंत हिन्दू राव अस्पताल पहुँचाया. यहाँ महिला ने पुत्र को जन्म दिया. माँ बेटा दोनों सुरक्षित थे.

इस बीच परिवार ने तय किया कि मुसीबत के समय देवदूत बनकर मदद के लिए आए सिपाही के नाम पर ही बच्चे का नाम रखा जाए. वैसे भी जिस नाम में ही दया का भाव हो तो वो भाता भी है. लिहाज़ा नवजात का नाम भी रखा गया दयावीर.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here