NCC में लड़कियों को प्रोत्साहित करने की जरूरत : श्रीपद नायक

31
NCC
ਫਾਈਲ ਫੋਟੋ

नेशनल कैडेट कोर (एनसीसी NCC) के कैडेट्स की तादाद चार साल में चार लाख बढ़ने की उम्मीद है. अभी ये तादाद 14 लाख है. भारत के रक्षा राज्यमंत्री श्रीपद नायक ने इस तादाद का ज़िक्र करते हुए कहा है कि NCC में लड़कियों को शामिल किये जाने पर प्रोत्साहित किया जाना चाहिए.

रक्षा राज्य मंत्री श्रीपद नायक ने ये बातें नेशनल कैडेट कोर (एनसीसी NCC) की 51वीं केन्द्रीय सलाहकार समिति (सीएसी) की अध्यक्षता करते हुए कहीं. उन्होंने कहा कि एनसीसी, सशस्त्र बलों की दहलीज़ है.

श्री नाइक ने प्रशिक्षण, खेल, रोमांचकारी गतिविधियों, सामाजिक सेवा और सामुदायिक विकास के क्षेत्र में एनसीसी के प्रदर्शनों की तारीफ़ की. उन्होंने कहा कि धर्मनिरपेक्षता, राष्ट्रीय अखंडता, निस्वार्थ सेवा भाव और युवाओं में देशभक्ति की भावना पैदा करने के लिए एनसीसी ने सराहनीय काम किया है.

श्री नाइक ने कहा कि एनसीसी ने ओडिशा, बिहार, केरल और कर्नाटक में बाढ़ और संकट के दौरान महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. भारत और कजाकिस्तान तथा अन्य मित्र देशों के साथ समझौते से ग्रामीण और अर्ध-शहरी क्षेत्रों के युवाओं को युवा आदान-प्रदान कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए विदेश भेजने में सहायता होगी. श्री नाइक ने आशा व्यक्त की कि एनसीसी की सदस्य संख्या 14 लाख से बढ़कर 2023 तक 15 लाख पहुंच जाएगी.

सीएसी एक सर्वोच्च निकाय है, जिसकी अध्यक्षता रक्षा राज्यमंत्री करते हैं. यह निकाय एनसीसी के प्रशासन और उसके संविधान के बारे में सरकारी नीतियों के लिए सलाह देता है. एनसीसी के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल राजीव चोपड़ा ने पिछले दो वर्षों के दौरान एनसीसी की गतिविधियों का ब्योरा सीएसी के सदस्यों के समक्ष पेश किया.

इस बैठक में सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत, नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह, वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आर.के.एस भदौरिया, सांसद डॉ. सोनल मानसिंह, सांसद कुलदीप राव शर्मा, एनसीसी के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल राजीव चोपड़ा, रक्षा मंत्रालय के आला अधिकारी और अन्य विशिष्टजन मौजूद थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here