मेजर शशि मेहता ने झांसी के किले से दिल्ली तक दौड़ना शुरू किया , रेकॉर्ड बनाने की तैयारी

23
नारी शक्ति वंदन रन को वीर नारियों रशपाल कौर तथा संतोष कुमारी ने झांसी में झंडी दिखाई

भारतीय सेना की मेजर शशि मेहता ने उत्तर प्रदेश में  झांसी के ऐतिहासिक रानी लक्ष्मी बाई किले से आज दिल्ली तक की दौड़ शुरू की है . मेजर शशि मेहता महिला शक्ति को समर्पित इस  अल्ट्रा मेराथन दौड़  ‘ नारी शक्ति वंदन रन ‘  में 470 किलोमीटर का फासला पूरा करेंगी. इस दौरान मेजर शशि मेहता रोज़ाना 80 किलीमीटर दौड़ने का विश्व रिकॉर्ड भी कायम करने की कोशिश करेंगी.

मेजर शशि मेहता  ( major shashi mehta ) उत्तराखंड के राष्ट्रीय कैडेट कोर ( national cadet corps ) निदेशालय में तैनात हैं . उनकी इस दौड़ को वीर नारियों रशपाल कौर तथा संतोष कुमारी ने  आज ( 17 जनवरी 2024 ) झंडी दिखाई . इस अवसर पर 31 आर्मर्ड डिवीज़न के जनरल ऑफिसर कमांडिग ( जीओसी ) मेजर जनरल एम के माथुर विशेष तौर पर  उपस्थित थे . मेजर शशि मेहता आगरा , मथुरा होते हुए 28 जनवरी को  दिल्ली पहुंचेगी.

‘ नारी शक्ति वंदन रन ‘  ( nari vandan run ) का आयोजन  एनसीसी के 76 वें स्थापना दिवस ( ncc raising day )  के अवसर पर  किया गया है .  मेजर शशि मेहता वह जहां – जहां से भी गुजर रहीं हैं वहां वहां उनके साथ स्थानीय  एनसीसी के कैडेट्स भी दौड़ में शामिल हो जाते हैं. यही सिलसिला दौड़ के 28 जनवरी को होने वाले समापन तक चलेगा.

मेजर शशि मेहता वह जहां – जहां से भी गुजरती हैं वहां वहां उनके साथ स्थानीय एनसीसी के कैडेट्स भी दौड़ में शामिल

मेजर शशि  मेहता लम्बी लम्बी दौड़ में हिस्सा लेती  हैं और उन्होंने 24 घंटे वाली दौड़ प्रतियोगिताओं में भी हिस्सा लिया है . यह दौड़ें अन्य देशों में भी हुई हैं . इस तरह मेजर शशि मेहता अन्तर्राष्ट्रीय स्तर की धाविका हैं . दौड़ शुरू होने से पहले इसकी ख़ुशी ज़ाहिर करते अपने सोशल मीडिया मंच पर  डाली पोस्ट में मेजर शशि मेहता ने लिखा है है कि नारी के सशक्त होने को दर्शाती इस दौड़ के उत्सव में एनसीसी की महिला कैडेट्स भी शामिल होंगी.