भारतीय नौसेना का अस्पताल ‘पतंजलि’ भी कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में आगे

71
भारतीय नौसेना अस्पताल से ठीक होने के बाद घर जाते मरीज

कर्नाटक के कारवार में भारतीय नौसेना अस्पताल ‘पतंजलि’ भी कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में पीछे नहीं है. बहुत कम लोग ही जानते हैं कि उत्तर कन्नड़ जिले में इस अस्पताल ने 24 घंटे के अन्दर खुद को कोविड 19 से जंग के लिए तैयार किया था.

भारतीय नौसेना अस्पताल ‘पतंजलि’ ले जाए जाते कोरोना मरीज

दरअसल, 25 मार्च को राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन की घोषणा के बाद, कारवार जिले के प्रशासन ने भारतीय नौसेना के अस्पताल आईएनएचएस पतंजलि को अनुरोध किया था कि कोविड 19 के मरीज़ों के इलाज के लिए बन्दोबस्त करने की आवश्यकता है.

भारतीय नौसेना अस्पताल ‘पतंजलि’

एक प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक़ ने अस्पताल ने खुद को 24 घंटों के भीतर ही सभी प्रकार से तैयार कर लिया था, जिससे 28 मार्च को कोविड-19 के पोज़िटिव पाए गये मरीजों के पहले समूह का ठीक तरीके से पूरा इलाज किया जा सके.

भारतीय नौसेना अस्पताल ‘पतंजलि’

भारतीय नौसेना के अस्पताल ‘पतंजलि’ में तीन डॉक्टरों, नौ चिकित्सा कर्मियों के साथ-साथ नौ सहायक कर्मचारियों की एक टीम इसके लिए तैनात की गई है. ये टीम अब तक भर्ती नौ कोविड-19 मरीज़ों की 24 घंटे की देखभाल सुनिश्चित करती रही है. वहीं, ‘पतंजलि ‘अस्पताल में भर्ती इन नौ मरीजों में से अब तक आठ मरीज ठीक भी हो चुके हैं और उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है. अब अस्पताल में एक मरीज़ ही बचा है जो कि वहां पर 16 अप्रैल से भर्ती है. डॉक्टरों का कहना है कि वो मरीज़ भी इलाज के प्रति अनुकूल प्रतिक्रिया दे रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here