भारतीय थल सेना ने मनाया इन्फेंटरी दिवस : साइकिल रैली, इंडिया गेट पर पुष्पांजलि

506
इन्फेंटरी दिवस
भारत भर में सेना के अलग अलग रेजिमेंट केंद्रों से शुरू हुई साइकिल रैली के दलों का, इन्फेंटरी दिवस के मौके पर दिल्ली पहुँचने पर भारतीय सेना के प्रमुख जनरल बिपिन सिंह रावत ने स्वागत किया.

भारत भर में सेना के अलग अलग रेजिमेंट केंद्रों से शुरू हुई साइकिल रैली के दलों का, इन्फेंटरी दिवस के मौके पर दिल्ली पहुँचने पर भारतीय सेना के प्रमुख जनरल बिपिन सिंह रावत ने स्वागत किया. शनिवार को दिल्ली के इंडिया गेट पर पहुंचने से पहले दस-दस साइकिल सवार जवानों के ये दल अपने अपने रेजिमेंटल केंद्र से 2000 किलोमीटर का फासला तय करके विभिन्न क्षेत्रों में राष्ट्र निर्माण के प्रति लोगों को जागरूक करने गये थे.

भारतीय थल सेना के जनसम्पर्क अधिकारी कर्नल अमन आनन्द के मुताबिक सभी 27 रेजिमेंटल केंद्रों की साइकिल रैली टीमों ने एकसाथ मिलकर कुल 50 हज़ार किलोमीटर फ़ासला तय किया. इस दौरान ये दल इन्फेंट्री जवानों, पूर्व सैनिकों और युवाओं से मिले. साइकिल सवार फौजियों ने लोगों को राष्ट्र निर्माण का संदेश देकर प्रेरित किया.

इन्फेंटरी दिवस
भारत भर में सेना के अलग अलग रेजिमेंट केंद्रों से शुरू हुई साइकिल रैली के दल, इन्फेंटरी दिवस के मौके पर दिल्ली पहुँचने पर भारतीय सेना के प्रमुख जनरल बिपिन सिंह रावत के साथ..

थल सैनिकों के कर्तव्य के प्रति निस्वार्थ भावना से समर्पण की याद में इंडिया गेट की अमर जवान ज्योति पर पुष्पांजलि अर्पित की गई. इस पवित्र मौके पर भारत के सेनाध्यक्ष जनरल बिपिन सिंह रावत और अन्य अधिकारियों ने पुष्प चक्र अर्पित कर सैल्यूट किया. इस अवसर पर पूर्व सैनिकों का प्रतिनिधित्व, 1971 की जंग में हिस्सा ले चुके और वीर चक्र से नवाज़े गये, सिपाही बूटा सिंह ने किया.

इन्फेंटरी दिवस क्यूँ :

भारत की आज़ादी के बाद हर साल 27 अक्टूबर इन्फेंटरी दिवस मनाया जाता है. आज के दिन 1947 में भारतीय सेना की सिख रेजिमेंट की पहली बटालियन ने हवाई मार्ग से जम्मू कश्मीर की राजधानी श्रीनगर पहुँच कर उन पाकिस्तानी सेना के साथ घुसे हमलावरों के साथ घमासान किया था. ये हमला भारत की आजादी के बाद ऐसी पहली घटना थी जब देश की सम्प्रभुता और एकता को चुनौती मिली. इन्फेंटरी दिवस कार्यक्रमों के बीच दिल्ली छावनी के मानेकशा केंद्र में फील्ड मार्शल एस एच एफ जे मानेकशा मेमोरियल लेक्चर भी आयोजित किया गया.