दिन में हॉक विमान उड़ाने वाली पहली महिला पायलट बनी फ्लाइट लेफ्टिनेंट मोहना सिंह

568
Informative Image
फ्लाइट लेफ्टिनेंट मोहना सिंह

फ्लाइट लेफ्टिनेंट मोहना सिंह (Flt Lt Mohana Singh) ने दिन में हॉक एडवांस जेट विमान उड़ाने वाली पहली महिला पायलट बनकर इतिहास रच दिया है. फ्लाइट लेफ्टिनेंट मोहना सिंह ने यह उपलब्धि कल हासिल की थी जिसकी जानकारी आज भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर बधाई के साथ दी है.

बयान में कहा गया है कि पश्चिम बंगाल के कलाईकुंडा एयर फोर्स स्टेशन पर फ्लाइट लेफ्टिनेंट मोहना सिंह ने दिन में सफलतापूर्वक हॉक फाइटर जेट से मिशन को पूरा किया. युद्ध मिशन में शामिल होने के लिए उनका यह आखिरी प्रशिक्षण कार्यक्रम था. सिंह को दो महिलाओं भावना कंठ और अवनी चतुर्वेदी के साथ जून 2016 में लड़ाकू पायलट प्रशिक्षण के लिए लड़ाकू शाखा में चुना गया था.

पिछले हफ्ते फ्लाइट लेफ्टिनेंट भावना कंठ ने दिन में लड़ाकू विमान मिग-21 को उड़ाया था. ऐसा करने वाली वह पहली महिला पायलट बनी थीं. बिहार की भावना इस समय बीकानेर स्थित नल बेस पर तैनात हैं.

प्रशिक्षण के दौरान मोहना सिंह ने कई मिशन को पूरा किया, इसमें लड़ाकू विमान से रॉकेट छोड़ने से लेकर बम गिराने तक का मिशन शामिल था. वह वायु सेना स्तर के कई अन्य फ्लाइंग अभ्यासों में भी शामिल रहीं. प्रशिक्षण के दौरान मोहना सिंह ने 500 घंटे दुर्घटना रहित उड़ान भरे, जिसमें 380 घंटे हॉक लड़ाकू विमान उड़ाना भी शामिल है.