नौसेना में भर्ती कराने के नाम पर ठगी का बिछाया जाता है जाल

538
भारतीय नौसेना
तस्वीर-Indian Navy के अधिकृत Instagram account से

नई दिल्ली. भारतीय नौसेना में (Indian Navy) भर्ती करने के नाम पर धोखाधड़ी और ठगी की घटनाओं को देखते हुए नौसेना ने अभ्यर्थियों को होशियार रहने को कहा है. कुछ एजेंट और दलाल नौसेना में नौकरी दिलाने के नाम पर लोगों से रकम ऐंठ लेते हैं. नौकरी के इच्छुक लोगों को अपने जाल में फांसने के लिए भारतीय नौसेना के नाम से फर्जी विज्ञापन का इस्तेमाल करते हैं और उसमें गलत पते और वेबसाइट आईडी देते हैं. और साथ ही ये दावा भी करते हैं कि पहले उन्होंने ऐसे लोगो को भर्ती कराया है.

नौसेना ने स्पष्ट किया है कि नाविकों की भर्ती भारतीय नौसेना के Directorate of Manpower Planning and Recruitment (DMPR) के जरिये की जाती है जिसके लिए रोज़गार समाचार के अलावा देशभर के बड़े अखबारों में विज्ञापनों के माध्यम से प्रचार किया जाता है. इसके अलावा भर्ती की पूरी प्रक्रिया पूरे ब्यौरे/तारीख के साथ वेबसाइट www.joinindiannavy.gov.in पर डाली जाती है.

नौसेना के मुताबिक़ इस भर्ती प्रक्रिया में फ़ार्म भरने से लेकर, लिखित परीक्षा, शारीरिक परीक्षण, फिटनेस टेस्ट, मेडिकल टेस्ट और मेरिट लिस्ट लगने तक कोई फीस नहीं ली जाती. उम्मीदवारों को झांसा देकर पैसे ऐठने के केस के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए सेना ने प्रचार माध्यमों में विज्ञापन भी दिए हैं.

1 COMMENT

Comments are closed.