अलग अलग देशों के सैनिकों का साझा अभ्यास शांतीर ओग्रोशेना शुरू

52
शांतीर ओग्रोशेना
साझा सैन्य अभ्यास शांतीर ओग्रोशेना (फ्रंट रनर ऑफ पीस)

भारतीय सेना के जवान पड़ोसी देशों के सैनिकों के साथ मिलकर एक साझा सैन्य अभ्यास शांतीर ओग्रोशेना (फ्रंट रनर ऑफ पीस) कर रहे हैं. ये अभ्यास बांग्लादेश के राष्ट्रपिता बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान की जन्मशती मनाने और बांग्लादेश की मुक्ति के 50 वर्ष पूरे होने के अवसर पर रविवार से शुरू किया गया. नौ दिवसीय इस अभ्यास में रॉयल भूटान आर्मी, श्रीलंका की सेना और बांग्लादेश की थल सेना की टुकड़ी के साथ भारतीय दल के 30 जवान हिस्सा ले रहे हैं.

एक प्रेस बयान के मुताबिक़ अभ्यास के दौरान संयुक्त राज्य अमेरिका, ब्रिटेन, तुर्की, सऊदी अरब, कुवैत और सिंगापुर के सैन्य पर्यवेक्षक भी मौजूद रहेंगे. जैसा कि अभ्यास के नाम से “शांतीर ओग्रोशेना” ही विदित है, इस अभ्यास का मकसद आपसी तालमेल और सैन्य कार्य प्रणाली को मज़बूत करना और पड़ोसी देशों के साथ पारस्परिकता को बढ़ावा देना है ताकि क्षेत्र में शांति बनाए रखी जा सके.

सैन्य अभ्यास शांतीर ओग्रोशेना में हिस्सा लेने वाले देशों की सेनाएं अपने बहुमूल्य अनुभवों को साझा करेंगी और शांति बनाए रखने के काम में अपनी जानकारी और कार्य पद्धति को परिष्कृत करेंगी. ये अभ्यास 12 अप्रैल तक चलेगा. अभ्यास का आयोजन बांग्लादेश में बंगबन्धु सेनानी बास में किया जा रहा है.