शुरू में सिर्फ 20 महिलाओं को एनडीए के ज़रिए सेना में एंट्री

145
भारतीय सेना
प्रतीकात्मक तस्वीर

भारत की राष्ट्रीय रक्षा अकादमी (national defence academy – NDA) में पहली बार, अगले साल के मध्य में, 20 महिला कैडेट्स को दाखिला देने पर सेना विचार कर रही है. हालांकि जिस हिसाब से महिलाओं ने सेना में जाने के लिए एनडीए दाखिला परीक्षा के लिए आवेदन किया है उस संख्या के हिसाब से महिलाओं के लिए सिर्फ 20 स्थान काफी कम हैं. अदालत के आदेश और दबाव के बाद सरकार ने हिचकते हुए महिलाओं को एनडीए के ज़रिये सेना में एंट्री देना कबूल किया है.

एक अंग्रेज़ी वेबपोर्टल News18.com में प्रकाशित समाचार के मुताबिक़ इस एनडीए और संयुक्त रक्षा सेवा (combined defence services) के ज़रिये सेना में दाखिले के लिए एक साल में 6 लाख से ज्यादा उम्मीदवार आवेदन करते हैं. इस साल तो 2 लाख महिलाओं ने ही अकेले एनडीए के लिए आवेदन किया है. हालांकि वो बात अलग है कि शुरूआती स्क्रीनिंग में ही ये तादाद काफी छंट जायेगी.

इस समाचार के मुताबिक़ जिन 20 महिला उम्मीदवारों को एनडीए दाखिला के जरिये चुना जाएगा उनमें से अधिकतम 50 फीसदी यानि 10 कैडेट्स को थल सेना (army) में कमीशन दिया जाएगा बाकी बचे 10 में से 5 महिला कैडेट्स वायु सेना और 5 नौसेना में ली जायेंगी. एक अधिकारी के मुताबिक़ महिला अधिकारियों की पहली खेप में ये संख्या इतनी ही रहेगी जिसे भविष्य में बढ़ाए जाने पर विचार किया जाएगा.