स्मार्ट पुलिसिंग के मामले में गुरुग्राम पुलिस ने तो कमाल ही कर दिया

350
ई पासपोर्ट
गुरुग्राम के पुलिस आयुक्त संदीप खिरवार (फाइल फोटो)

गुरुग्राम. नए और नवीनीकृत पासपोर्ट के पुलिस सत्यापन में होने वाली देरी को रोकने के लिए गुरुग्राम पुलिस ने सोमवार को जिले के सभी पुलिस स्टेशनों को एंड्रायड-आधारित टैबलेट्स और मोबाइल एप्लिकेशन मुहैया कराया है. इससे भ्रष्टाचार पर भी अंकुश लगेगा.

पुलिस आयुक्त संदीप खिरवार ने कहा, “एमपासपोर्ट एप और स्मार्टफोन से पासपोर्ट सत्यापन प्रक्रिया कागजरहित हो जाएगी.” उन्होंने कहा कि इस कदम से पुलिस पर बोझ घटेगा और पासपोर्ट जारी करने और नवीनीकरण करने की प्रक्रिया में तेजी आएगी. जिला पुलिस के प्रवक्ता रविंद्र कुमार ने कहा, “पासपोर्ट के सत्यापन की प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए आनलाइन सत्यापन प्रक्रिया काम करने लगी है.”

टैबलेट और मोबाइल एप सोमवार को सभी उपायुक्त, सहायक उपायुक्त और स्टेशन हाउस अधिकारियों की बैठक के बाद वितरित किए गए, जिसकी अध्यक्षता खिरवार ने की. यह एप पुलिस अधिकारियों को फील्ड वेरिफिकेशन में मदद करेगा. इस एप के प्रयोग से अधिकारी सत्यापन रिपोर्ट को सीधे सिस्टम में अपडेट कर सकेंगे.

इससे पहले पुलिस सत्यापन फार्म को डाउनलोड कर उसका प्रिंट निकालकर आवेदक के घर जाकर उसका सत्यापन करती थी, फिर फार्म को भर कर वापस भेजती थी. नई प्रणाली के तहत एप पर फार्म भरते ही उसकी सत्यापन रिपोर्ट सीधे पार्सपोर्ट कार्यालय को चली जाएगी तथा उसकी एक प्रति पुलिस विभाग के सर्वर में भी स्वचालित रूप से सेव हो जाएगी.