कृष्ण प्रकाश : आयरनमैन से अल्ट्रामैन बन गया ये आईपीएस अधिकारी

1652
कृष्ण प्रकाश
कृष्ण प्रकाश

ये एक असल ज़िन्दगी के पुलिस अफसर की असली कहानी है जो फ़िल्मी परदे के हीरो की कहानी का मुकाबला करती है. अभी तक ये आयरनमैन (IRONMAN – लौह पुरुष) कहलाते थे लेकिन अब हैं अल्ट्रामैन (UTRAMAN) हैं. ये शख्स हैं कृष्ण प्रकाश.

कृष्ण प्रकाश ने आस्ट्रेलिया के सनशाइन कोस्ट के नूसा में एक मुकाबले में एक ऐसा रिकार्ड बना डाला जो आज तक कोई भारतीय अधिकारी न कर सका. 49 वर्षीय इस आईपीएस (IPS) अफसर ने एक ऐसी ट्रायथलान में कामयाबी हासिल की जो दुनिया की सबसे कठिन प्रतियोगिताओं में से है. सबसे पहले प्रशांत सागर में 10 किलोमीटर तैरना, इसके बाद 421.1 किलोमीटर साइकिल चलाना वो भी पहाड़ी इलाके में और इसके बाद 84.3 किलोमीटर की दौड़..!!! है न हैरानी पैदा करने वाली बात और ये सब सिर्फ तीन दिन के अंदर और जिसमें शर्त ये कि हर इवेंट 12 घंटे में पूरा करना… सुनकर ही कंपकंपी पैदा करने वाला ये मुकाबला 1998 बैच के इस अफसर ने 12 से 14 मई के बीच पूरा किया है.

  • कृष्ण प्रकाश ने ये चुनौती भरी ट्रायथलान पूरी करके, ऐसा मुकाबला पूरा करने वाले भारत के पहले नागरिक अधिकारी (Civil Servant ) और वर्दीधारी सेवा के अधिकारी (uniform services officer) का रिकार्ड भी कायम कर दिया है. ट्रायथलान में सफलता के बाद महाराष्ट्र पुलिस के इन महानिरीक्षक ने अपनी कामयाबी को, गृह मंत्रालय की शूरवीरों के लिए की गई पहल ‘भारत के वीर’ को समर्पित किया है जो अभिनेता अक्षय कुमार और उनके बैच के साथी अधिकारी अमित लोढा का आइडिया था.

15 अगस्त 1969 को जन्मे कृष्ण प्रकाश इससे पहले पिछले साल तब सुर्ख़ियों में आये थे जब उन्होंने वही आयरनमैन ट्रायथलान का खिताब जीता जिसे 2015 में 50 साल की उम्र में हासिल करके माडल अभिनेता मिलिंद सोमन ने भी लोकप्रियता पाई थी. वो आयोजन 2015 में ज्यूरिख में हुआ था जबकि कृष्ण प्रकाश ने सितम्बर 2017 में फ्रांस में ये खिताब हासिल किया और वो भी मिलिंद सोमन से भी आधे समय में पूरा करके. बेहद मानसिक और शारीरिक रूप से शक्तिशाली इंसान ही अलग अलग हिस्सों में बंटी ये 140 मील की रेस एक दिन में पूरी कर सकता है. ये मुकाबला पूरा करने वाले भी कृष्ण पहले अधिकारी थे.

इसमें पहले 3.86 किलोमीटर तैरना (समुद्र, झील या नदी में) था, फिर 180 किलोमीटर साइक्लिंग और 42 किलोमीटर दौड़ना. ये सब उन्होंने 14 घंटे 8 मिनट में किया था. इस रेस को पूरा करने वाले कौशिक मुखर्जी और विनीता सिंह पहले भारतीय दम्पति हैं.

इतने कठिन मुकाबलों के लिए खुद तैयार करने वाले इस अफसर का कहना है कि सबसे पहले तो ये समझना है कि इंसान के लिए असम्भव कुछ भी नहीं है अगर इरादा पक्का कर ले तो. इस तरह के मुकाबलों में शामिल होने और अपनी शारीरिक क्षमताओं का पता लगाकर बढ़ाने का विचार कृष्ण प्रकाश को तब आया जब उन्हें मुम्बई में Standard Chartered Marathon के लिए पुलिस बन्दोबस्त करने का ज़िम्मा सौपा गया था. पहले तो कृष्ण प्रकाश ने दौड़ में हिस्सा लिया और फिर पुलिस की सुपरविजन वाला काम भी निपटाया.

कृष्ण प्रकाश को उनकी ताज़ा उपलब्धि के लिए भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारियों के संगठन IPS Association ने भी बधाई देते हुए ट्वीट किया है –

कृष्ण प्रकाश
कृष्ण प्रकाश
कृष्ण प्रकाश
मुम्बई में अपनी विभागीय टीम के साथ कृष्ण प्रकाश