ऐसे हटाए गए नागालैंड के पुलिस महानिदेशक रुपिन शर्मा, किकोन नये DGP

1210
रुपिन शर्मा
रुपिन शर्मा (बाएं) को नागालैंड के पुलिस महानिदेशक पद से हटा दिया गया है.

कोहिमा. नागालैंड के पुलिस मुखिया पर विवाद फिलहाल थम गया है. 1998 बैच के रेंचामो पी किकोन (Renchamo P Kikon) को 1992 बैच के रुपिन शर्मा की जगह राज्य का नया पुलिस महानिदेशक बनाये जाने की अधिसूचना जारी कर दी गई है. किकोन अभी अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून-व्यवस्था) पद पर थे. वह इस पद का दायित्व भी सम्भालेंगे. उन्हें तत्काल प्रभाव से पद ग्रहण करने को कहा गया है.

गृह आयुक्त आर. रामकृष्णन द्वारा कल जारी अधिसूचना के मुताबिक, “नागालैंड डीजीपी रुपिन शर्मा (IPS) को निर्देश दिया जाता है कि वह तत्काल अपना चार्ज किकोन को सौंप दें.” रुपिन को अनिवार्य प्रतीक्षा सूची में डाल दिया गया है.
इससे पहले बुधवार को पुलिस महानिदेशक पद पर किकोन को नियुक्त किये जाने का अधिकृत आदेश जारी होने के मिनट भर के अंदर रुपिन ने इस्तीफा दे दिया. जानकारी के अनुसार रुपिन की कार्यप्रणाली से सरकार नाराज थी. लेकिन रुपिन ने राज्य की जनता में खासी लोकप्रियता हासिल कर ली थी. उन्हें ‘जनता का डीजीपी’ कहा जाता था. वह नियुक्तियों आदि को लेकर महकमे में सुधारात्मक कदम उठा रहे थे जो राज्य सरकार को रास नहीं आया. उनकी लोकप्रियता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि बहुत से संगठनों ने उनको हटाये जाने के खिलाफ पूरे राज्य में हस्ताक्षर अभियान भी चलाया था. अपनी मांग से इन लोगों ने केंद्रीय गृह मंत्री को भी अवगत करा दिया था.

रुपिन शर्मा
रुपिन शर्मा को पुलिस महानिदेशक पद से हटाए जाने के खिलाफ कई संगठनों ने इस तरह बैनर लेकर उन्हें बहाल किये जाने की मांग की. Photo/Youtube