चंडीगढ़ समेत देश में अलग अलग जगह वायुसेना के विमानों के आसमानी करतब होंगे

265
भारतीय वायुसेना
जलंधर में भारतीय वायुसेना की सूर्य किरण एयरोबैटिक टीम का प्रदर्शन

भारतीय वायुसेना, पंजाब और हरियाणा की संयुक्त राजधानी, चण्डीगढ़ में 22 सितंबर को शानदार एयर शो करने वाली है. खूबसूरत नजारों वाली, चंडीगढ़ की सुखना लेक के ऊपर का आसमान उस शाम भारत के वायु सैनिकों की मनमोहक हवाबाज़ी के कौशल का गवाह बनेगा. इस शो में भारतीय वायुसेना के सूर्य किरण दल के अलावा कुछ और विमान भी हिस्सा लेंगे. चंडीगढ़ में ये एयर शो पाकिस्तान से 1971 में लड़े गये युद्ध में भारतीय सेनाओं की विजय के 50 साल पूरे होने पर मनाए जा रहे स्वर्णिम विजय वर्ष के कार्यक्रमों में से तो एक है ही, इस मौके की एक खासियत और भी है. दरअसल, 1961 में स्थापित चंडीगढ़ स्थित 12 विंग एयर फ़ोर्स स्टेशन (12 Wing Air Force Station) हीरक जयंती (diamond jubilee year) के तौर पर भी मना रहा है. ग्रुप कैप्टेन मूरत सिंह औलख चंड़ीगढ़ स्थित एयर फ़ोर्स स्टेशन के पहले कमान अधिकारी (commanding officer) थे.

भारतीय वायुसेना
जलंधर में भारतीय वायुसेना की सूर्य किरण एयरोबैटिक टीम का प्रदर्शन

सुखना लेक (Sukhna Lake) पर 22 सितंबर 2021 को दोपहर बाद 4.30 बजे ये एयर शो शुरू होगा. एक घंटे तक चलने वाले इस एयर शो का नज़ारा यहाँ से आम लोग भी ले सकेंगे. सूर्य किरण एयरोबैटिक टीम (Surya Kiran Aerobatic Team) हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) निर्मित हॉक विमान (Hawk Aircraft) से लैस टीम है जो आसमान में शानदार हवाई करतब करने में सक्षम है. ‘सदैव सर्वश्रेष्ठ’ ध्येय वाक्य वाला ये दल बेहद कम ऊंचाई पर अपना हवाई कौशल दिखाने का हौसला रखता है जिसका गवाह पंजाब का जलंधर शहर आज बना. चंड़ीगढ़ में 22 सितंबर और श्रीनगर में 26 सितंबर को और हिंडन में वायुसेना दिवस के मौके पर भी सूर्य किरण एयरोबैटिक टीम अपने करतब का प्रदर्शन करेगी. वहीं महाराष्ट्र के पुणे में 18 अक्टूबर को ऐसा एयर शो होगा.

भारतीय वायुसेना
एयर शो की जानकारी देते भारतीय वायुसेना के अधिकारी

चंडीगढ़ में सुखना लेक पर होने वाले एयर शो के आयोजन में एयर फ़ोर्स को चंडीगढ़ प्रशासन भी सहयोग कर रहा है. सुखना लेक के ‘वाकिंग ट्रैक’ (walking track – पैदल पथ) से ये शो देखा जा सकता है. ये निशुल्क है जिसके लिए न तो किसी पास की ज़रुरत है और न ही टिकट लगेगा. लेकिन एक शर्त ये है कि कोविड 19 प्रोटोकॉल के नियमों के तहत यहाँ आने के लिए फेसमास्क पहनना ज़रूरी है. एक दिन पहले यानि 21 सितंबर को इस एयर शो की रिहर्सल भी होगी. आम नागरिकों और पर्यटकों को सलाह दी गई है कि अनावश्यक भीड़ भाड़ से बचने के लिए वे लेक के आसपास जहां से भी संभव हो या छतों से विमानों के करतब का नज़ारा देखें.

भारतीय वायुसेना
इस मौके पर स्कूली बच्चे, महिलाएं, पुरुष, पूर्व और वर्तमान सैनिक उपस्थित रहे.

कोविड 19 नियमों का पालन कराने की सख्त हिदायतें भी चंड़ीगढ़ पुलिस को जारी की गई हैं. ये एयर शो इन्स्टाग्राम (instagram) , ट्वीटर (twitter) और फेसबुक (facebook ) पर @suryakiran_chandigarh हैंडल पर भी देखा जा सकता है.