कैप्टन फातिमा ने सियाचिन में इतिहास बना डाला, सेना ने वीडियो बनाकर वायरल किया

56
कैप्टन फातिमा वसीम

भारतीय सेना की कैप्टन फातिमा वसीम ने इतिहास रच डाला है . कैप्टन फातिमा दुनिया के सबसे ऊँचे बर्फीले रणक्षेत्र सियाचिन ग्लेशियर की परिचालन चौकी ( operational post) में भारतीय सेना की तैनात होने वाली पहली महिला मेडिकल ऑफिसर बनीं हैं . भारतीय सेना ने उनकी इस उपलब्धि पर ख़ुशी ज़ाहिर करते हुए एक शानदार वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर डाला है .

कैप्टन फातिमा वसीम

अड़तालीस सेकंड्स के इस वीडियो के पार्शव में एक ट्रेंडी सुरीला गाना है :
 
अपना है दिन ये आज का …दुनिया से जाके बोल दो …बोल दो …!

ऐसे जागो से साथियों … दुनिया की आंखें खोल दो …खोल दो …!

लहरा दो … लहरा दो … सरकशी का परचम लहरा दो …!

गर्दिश में फिर अपनी सरज़मीं का परचम लहरा दो …!

भारतीय सेना की फायर एंड फ्यूरी कोर  ( fire and fury corps ) ने कैप्टन फातिमा की इस तैनाती के बारे में लिखी पोस्ट में कहा  है कि सियाचिन ग्लेशियर की परिचलन चौकी पर बतौर मेडिकल ऑफिसर तैनात होकर सियाचिन योद्धा कैप्टन फातिमा वसीम ने इतिहास रच डाला है. कैप्टन फातिमा की 15200 फीट की उंचाई पर यह तैनाती  सियाचिन बैटल स्कूल में कठिन प्रशिक्षण से गुजरने के बाद हुई है जो उनकी अदम्य भावना और उच्च प्रेरणा के बारे में बताता है .