सेना में शामिल हुईं 27 नर्स लेफ्टिनेंट, दिल्ली में कमीशन हासिल किया

94
लेफ्टिनेंट के रूप में कमीशन हासिल करने वाली 27 युवा.

दिल्ली के आर्मी अस्पताल (रिसर्च एंड रेफरल) में कॉलेज ऑफ नर्सिंग में एक शानदार समारोह में लेफ्टिनेंट के रूप में 27 युवा नर्सिंग विद्यार्थियों को सैन्य नर्सिंग सेवा (एमएनएस) में कमीशन किया गया. इस कॉलेज की स्नातक नर्सों का दूसरा बैच, जो सैन्य नर्सिंग सेवा में कमीशन किया गया था, विभिन्न सशस्त्र बलों के अस्पतालों में पदस्थापित किया जाएगा.

उत्कृष्ट विद्यार्थियों को सम्मानित किया गया.

आर्मी अस्पताल (आरआर) के कमांडेट, लेफ्टिनेंट जनरल रजत दत्ता समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर आये थे. उन्होंने नए कमीशन प्राप्त नर्सिंग अधिकारियों और उनके अभिभावकों को बधाई दी. लेफ्टिनेंट जनरल दत्ता ने अपने सम्बोधन में युवा और उत्साही नर्सिंग अधिकारियों से सेवा की नैतिकता का पोषण करने और संगठन को अधिक ऊंचाइयों तक ले जाने का आग्रह किया. उन्होंने निवर्तमान स्नातकों को चिकित्सा और नर्सिंग के क्षेत्र में नवीनतम विकास के साथ संयम रखने की सलाह दी. जनरल दत्ता ने कहा कि नर्सिंग अधिकारियों को रोगियों की करुणा भाव के साथ सेवा करनी चाहिए.

उत्कृष्ट विद्यार्थियों को सम्मानित किया गया.

सैन्य नर्सिंग सेवा के अतिरिक्त महानिदेशक (एडीजी, एमएनएस) मेजर जनरल जॉयस ग्लेडिस रोच ने युवा नर्सों को शपथ दिलाई. अस्पताल की प्रिंसिपल मैट्रन मेजर जनरल सोनाली घोषाल ने गण्यमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया जबकि कॉलेज ऑफ नर्सिंग की प्रिंसिपल कर्नल रेखा भट्टाचार्य ने बैच रिपोर्ट पेश की.

युवा और उत्साही नर्सिंग अधिकारियों को संबोधित करते आर्मी अस्पताल (आरआर) के कमांडेट, लेफ्टिनेंट जनरल रजत दत्ता .

लेफ्टिनेंट पारुल और लेफ्टिनेंट अंकिता मित्रा को उनके बैच में क्रमशः प्रथम और द्वितीय स्थान प्राप्त करने के लिए कमांडेंट सिल्वर मेडल से सम्मानित किया गया. लेफ्टिनेंट सुकृति चौहान को सर्वश्रेष्ठ ऑल राउंड स्टूडेंट ट्रॉफी प्रदान की गई. लेफ्टिनेंट चिंगनीहाट ज़ोउ और लेफ्टिनेंट पारुल को क्रमशः सर्वश्रेष्ठ छात्र नैदानिक नर्स और पुष्पनरंजन पुरस्कार मिला.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here