भारत और अमेरिकी सेनाओं का संयुक्त युद्धाभ्यास वाशिंगटन में होगा

17
प्रतीकात्मक फोटो....भारत-अमेरिका संयुक्त युद्धाभ्यास की यह फोटो 2017 की है.

भारत और अमेरिकी सेनाओं के बीच 14 दिन चलने वाला युद्धाभ्यास 2019 वाशिंगटन में 5 सितम्बर से शुरू होगा. हर साल संयुक्त रूप से आयोजित किये जाने वाले इस प्रशिक्षण को हर बार दूसरा देश अपने यहाँ करता है. भारत और अमेरिका के बीच होने वाला ये सबसे बड़ा अभ्यास है जिसका अब ये पन्द्रहवां संस्करण है.

एक प्रेस विज्ञप्ति के मुताबिक़ ये ऐसा मौका है जिसमें दोनों देशों के सैनिक बटालियन स्तर पर एक साथ ऐसा प्रशिक्षण लेते हैं जिसकी योजना ब्रिगेड स्तर पर संयुक्त रूप से बनाई जाती है. इस दौरान अलग अलग कई तरीके के हालात पैदा करके ऐसा प्रशिक्षण दिया जाता है जिससे दोनों देशों के सैनिक एक दूसरे के संगठनात्मक ढांचे और युद्ध प्रक्रियाओं को समझ सकें ताकि कभी भी विश्व स्तर पर उन्हें साथ साथ काम करने में दिक्कत ना हो और विश्व स्तर पर कहीं भी आई अप्रत्याशित मुसीबत का, एक दूसरे का साथ देते हुए आसानी से उसका सामना कर सकें. ये प्रशिक्षण एक ऐसा आदर्श मंच है जहां एक दूसरे की विशेषज्ञता और तजुर्बों से योजना बनाने से लेकर उन्हें अमल में लाना तक सीखा जा सकता है.

भारतीय सेना के पीआरओ कर्नल अमन आनंद के मुताबिक़, “दोनों देशों की सेनायें विभिन्न प्रकार के खतरों से निबटने के लिए श्रृंखलाबद्ध तरीके से ऑपरेशंस प्लान करती हैं” युधाभ्यास के अंत में दोनों देशों की सेनाओं के विशेषज्ञ संयुक्त राष्ट्र की मान्यता के तहत शैक्षिक और सैन्य परिचर्चा का आयोजन करते हैं ताकि विभिन्न मुद्दों पर एक दूसरे के तजुर्बों से सीखकर फायदा उठाया जा सके.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here