भारत और जापान के सैनिकों के बीच शानदार रहा धर्म गार्जियन 2022

124
भारतीय सेना
भारतीय सेना और जापानी ग्राउंड सेल्फ डिफेंस फोर्स के बीच सैन्य अभ्यास

भारतीय सेना और जापानी ग्राउंड सेल्फ डिफेंस फोर्स (japanese ground self defence force ) के बीच 12 दिन चला सैन्य अभ्यास (military exercise ) ‘धर्म गार्जियन-2022’ शानदार तरीके से सम्पन्न हो गया. ये अभ्यास जो 27 फरवरी 2022 को कर्नाटक में बेलगाम स्थित विदेशी प्रशिक्षण नोड, में किया गया था. दोनों देशों के सशस्त्र बलों के बीच तालमेल स्थापित करने का एक अनूठा मौका देने वाला यह अभ्यास भारत-जापान दोस्ती के पुराने रिश्तों को मजबूत करने की दिशा में केंद्रित है.

रक्षा मंत्रालय की तरफ से जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि ‘धर्म गार्जियन 202 2 ‘ (dharma guardian ) अभ्यास ने पेशेवर और सांस्कृतिक तौर पर मिली कई सीखों के साथ-साथ सामाजिक अंतःक्रियाओं के लिए भी एक मंच प्रदान किया है. इसका मकसद हिंद-प्रशांत क्षेत्र में सह-अस्तित्व की ओर ज्ञान और सहयोग की दिशा में अपने क्षितिज को व्यापक बनाना भी था. अभ्यास का आयोजन एक शानदार सफलता रही है.

‘ धर्म गार्जियन ‘अभ्यास में क्रॉस ट्रेनिंग और फील्ड परिस्थितियों में मुकाबला कंडीशनिंग से लेकर खेल और सांस्कृतिक आदान-प्रदान तक एक विशाल दायरा शामिल था. फायरिंग रेंज में और विभिन्न सामरिक अभ्यासों के दौरान दोनों सेनाओं ने विभिन्न प्रदर्शनों में हिस्सा लिया. दोनों टुकड़ियों ने आतंकवाद विरोधी अभियानों के समकालीन विषयों पर अपनी विशेषज्ञता तो एक दूसरे के साथ साझा की ही, उन्होंने इस अवसर का उपयोग ड्रोन और ड्रोन विरोधी हथियारों (drone and anti-drone weapons ) जैसी बेहद जरूरी प्रौद्योगिकियों के इस्तेमाल पर अपने अनुभवों को साझा करने के लिए भी किया.

विज्ञप्ति में उम्मीद ज़ाहिर की गई कि ‘धर्म गार्जियन-2022’ भारतीय सेना और जापानी ग्राउंड सेल्फ डिफेंस फोर्सेज के बीच रक्षा सहयोग (defence cooperation) के स्तर को बढ़ाएगा और भविष्य में ऐसे कई संयुक्त कार्यक्रमों के लिए उत्प्रेरक के रूप में कार्य करेगा ताकि इससे प्राप्त लाभों को और मजबूत किया जा सके.